प्रधानमंत्री मुद्रा लोन मेला में बडी संख्या में हितग्राहियों ने लोन मेला का लाभ लिया – अमर पारवानी

65
IMG 20230802 WA0041
IMG 20230802 WA0041

रायपुर। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष अमर पारवानी, चेयरमेन मगेलाल मालू, अमर गिदवानी, प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र दोशी, कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव, परमानन्द जैन, वाशु माखीजा, महामंत्री सुरिन्द्रर सिंह, कार्यकारी महामंत्री भरत जैन, एवं कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल ने बताया कि आज कैट के प्रदेश कार्यालय में शाम साढ़े तीन बजे से शाम 6 बजे तक प्रधानमंत्री मुद्रा लोन मेला का आयोजन किया गया। मुद्रा लोन मेले में व्यपारियों एवं हितग्राहियों को प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना का लाभ देने कैट के टेक्नीकल टीम के साथ ही विभिन्न राष्ट्रीयकृत बैंक भी शामिल हुए। मुद्रा लोन मेले में व्यापारियों को इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेजों के बारे में विस्तार से बताया गया।

कैट के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अमर पारवानी एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री जितेन्द्र दोशी ने बताया कि आज कैट के प्रदेश कार्यालय में प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के अंतर्गत लोन मेले का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न व्यापारिक संगठनो के प्रमुखों सहित व्यापारीगण शामिल हुए और इस योजना के बारे में हितग्राहियों ने विस्तार से जाना तथा लाभ उठाया । इस योजना के तहत 50 हजार से 10 लाख तक लोन, बिना गारंटी (पात्रता अनुरूप), आकर्षक ब्याज दर एवं अन्य लोन सम्बन्धी समस्याओं का समाधान किया जाना इत्यादि शामिल हैं। लोन मेले में राष्ट्रीयकृत बैंकों में बैंक ऑफ बडौदा, यूनियन बैंक, इण्डियन ओवरसीज बैंक आईडीबीआई बैंक, आरबीएल बैंक ने अपने स्टॉल लगाये तथा लगभग 100 लाभार्थी पहुंचे। कई हितग्राहियों के लोन तत्काल स्वीकृत हुए।

श्री पारवानी एवं श्री दोशी ने आगे बताया कि प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना से पूरे प्रदेश के व्यापारियों को इसका लाभ मिल सके इसके लिए कैट द्वारा टेक्नीकल टीम बनाया गया है जिसमें तकनीकी एवं बैंकिंग विशेषज्ञ श्री मुकेश मोटवानी, संयोजक श्री भरत जैन एवं सह-संयोजक श्री रमेश खोडियार है। जिनसे संपर्क कर कोई भी व्यापारी अपने लोन सम्बन्धी समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकता है।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन मेला में कैट एवं युवा टीम के पदाधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे :- अमर पारवानी, जितेन्द्र दोशी, विक्रम सिंहदेव, परमानन्द जैन, वाशु माखीजा, सुरिन्द्रर सिंह, भरत जैन, अवनीत सिंह, विजय पटेल, पवन वाधवा, प्रीतपाल सिंह बग्गा, नरेश पाटनी, नरेन्द्र दुग्गड, महेन्द्र बागरोडिया, मोतीलाल सचदेव, जयराम कुकरेजा, मोहन वर्ल्यानी, दीपक विधानी, विक्रांत राठौर, परविन्द्रर सिंह, रमेश खोडियार, हरसुख पटेल, राकेश लालवानी, नरेश माखीजा, सुनील लालवानी एवं अन्य व्यापारीगण आदि।