हम विकास के विरोधी नहीं लेकिन ग्रामीणों के हितो की रक्षा करना हमारा फर्ज़ – भावेश बघेल

124
IMG 20230624 WA0009
IMG 20230624 WA0009

रायपुर। धरसींवा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम मढ़ी में लगने जा रहे गौरी गणेश इस्पात संयंत्र का विरोध फिर से तेज़ हो गया हैं । क़रीब एक साल पहले प्लांट की जनसुनवाई में क्षेत्र की जनता ने प्लांट खुलने का पुरज़ोर विरोध किया था ।

इस विरोध की अगुवाई क्षेत्र की जनता के साथ साथ प्रदेश कांग्रेस (ओबीसी) महामंत्री भावेश बघेल ने की थी । विधिक रूप से कंपनी का विरोध एवं शिकायत दी गई थी । प्रदेश किसान कांग्रेस महामंत्री वैभव शुक्ला ने कलेक्टर से मिल कर प्लांट लगने की प्रक्रिया में क़ानूनी ख़ामियों को बताया था तथा प्लांट की अनुमति रद्द करने की माँग की थी । ग्रामीणों की ओर से प्लांट प्रबंधन को छः सूत्रिय माँगे भी सौपी गई थी ।
दोनों कांग्रेस नेताओं पर सिलयारी रेलवे फाटक के समीप जानलेवा हमला भी हुआ था जिसमे पुलिस प्लांट प्रबंधन की भूमिका की जाँच कर रही हैं ।

भावेश बघेल ने प्लांट लगने की प्रस्तावित जगह पर पहुँच कर उपस्थित प्लांट अधिकारियों को चेतावनी दी की अगर प्लांट का काम चालू करने के पूर्व क्षेत्र की जनता की छः सूत्रिय माँगे पूरी नहीं की गई तो काम बंद करवा कर तालाबंदी की कार्यवाही की जाएगी तथा उग्र जनआंदोलन किया जायेगा । ग्रामीणों के स्वास्थ और रोज़गार के साथ खिलवाड़ की क़ीमत पर प्लांट नहीं लगने दिया जाएगा । इस पर प्लांट अधिकारियों ने उच्च अधिकारियों से बात कर समाधान करने की बात कही हैं । भावेश बघेल ने कहा की प्लांट प्रबंधन को 10 दिन का अल्टीमेटम दिया गया हैं । इस समय सीमा के भीतर अगर ग्रामीणों की माँगो को पूरा नहीं किया गया तो सड़क से लेकर कोर्ट तक ग्रामीणों के हक की लड़ाई को लड़ा जाएगा। साथ ही आयुष वर्मा, आशीष वर्मा,कुंदन वर्मा , प्रमोद पल, दिव्यानाथ वर्मा, अभिजीत साहू, संयम ठाकुर, हरी वर्मा उपस्थित थे।