समाचार

कोरोना वायरस के लक्षण, बचाव और उपचार के प्रति जागरूकता लाने कलेक्टर ने दिया जोर

अन्तर्विभागीय समन्वय समिति को प्रतिदिन रिपोर्ट देंगे मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी

धमतरी। नोवेल कोरोना वायरस के लक्षण, बचाव और उपचार के संबंध में आज स्वास्थ्य विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग की बैठक लेकर कलेक्टर श्री रजत बंसल ने जिले में इसके प्रति जागरूकता लाने पर जोर दिया। उन्होंने साफ तौर पर हिदायत दी कि गत (जनवरी) माह में चीन, हॉन्गकॉन्ग, थाईलैंड या अन्य देशों की यात्रा पर गए व्यक्तियों की निगरानी रखी जाए। साथ ही उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से समन्वय कर उचित व्यवस्था करने जिला स्तर पर गठित की गई अंतर्विभागीय समन्वय समिति को निर्देशित किया है। गौरतलब है कि इस समिति के प्रभारी अधिकारी अपर कलेक्टर श्री दिलीप अग्रवाल को बनाया गया है। सदस्य के रूप में सभी एसडीएम, डिप्टी कलेक्टर श्री डी.सी. बंजारे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.के. तुर्रे, डॉ. विजय फूलमाली कार्य करेंगे।
इस मौके पर डॉ. तुर्रे ने बताया कि जिले में अब तक करोना वायरस से संदेहास्पद मरीज के एक भी प्रकरण नहीं पाए गए हैं, किंतु इसके उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी तैयारियां कर ली गई हैं। सभी स्वास्थ्य केंद्रों को अलर्ट किया गया है। जिला अस्पताल में चार इसोलेशन बेड और सभी ब्लॉक में एक-एक आइसोलेशन रूम आरक्षित रखा गया है। इसके पहले संदेहास्पद मरीज को घर पर ही आइसोलेशन में रखने की सलाह दी जाएगी। ऐसे व्यक्ति की तीन सप्ताह तक स्वास्थ्य निगरानी कर लक्षण मिलने पर उपचार शुरू किया जाएगा। इसके अलावा जिले में सैंपल कलेक्शन किट, पर्सनल प्रोटेक्शन किट, दवाईयां उपलब्ध है। बैठक में बताया गया कि करोना वायरस से प्रभावित होने के लक्षण में बुखार आना, नाक बहना, जुकाम और सांस लेने में तकलीफ, खांसी, गले में खराश, सीने में जकड़न महसूस होती है। यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के खुली जगह में छींकने और खांसने, उससे हाथ मिलाने, गले लगाने, संक्रमित जगह से संपर्क में आने के बाद बिना हाथ धोए अपनी आंख मुंह और नाक छूने से फैलता है। इसके बचाव के रूप में संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क में आने से बचना, उसके संपर्क में आने के बाद आंख, नाक को छूने से बचना, नियमित रूप से दिन में कई बार हाथों को साबुन और पानी से धोना, आंख, मुंह और नाक को हाथ धोकर ही छूना जरूरी है। कलेक्टर ने बैठक के अंत में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.तुर्रे को इसकी प्रतिदिन रिपोर्टिंग अपर कलेक्टर श्री अग्रवाल को करने के निर्देश दिये हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button