समाचार

NHRC की ओपन हियरिंग एंड सिटिंग कैंप कल रायपुर में

रायपुर। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, एनएचआरसी, भारत नए सर्किट हाउस, रायपुर में छत्तीसगढ़ राज्य में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति समुदायों के लोगों के अधिकारों के उल्लंघन से संबंधित शिकायतों की सुनवाई के लिए 13 फरवरी, 2020 को ‘ओपन हियरिंग एंड कैंप सिटिंग’ का आयोजन कर रहा है। श्री न्यायमूर्ति एच.एल.दत्तू, अध्यक्ष, एनएचआरसी, सुबह 10.00 बजे इसका उद्घाटन करेंगे । एनएचआरसी सदस्य श्रीमती ज्योतिका कालरा और डॉ. डी.एम. मुले, महासचिव, जयदीप गोविंद और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहेंगे।
न्यायमूर्ति दत्तू और एनएचआरसी सदस्यों, श्रीमती ज्योतिका कालरा और डॉ. डी.एम. मुले की अध्यक्षता वाली तीन एकल पीठों द्वारा ओपन हियरिंग ’में 54 मामलों की सुनवाई की जाएगी। इसके बाद, पूर्ण आयोग कैम्प सिटिंग ’के भाग के रूप में 07 मामलों की सुनवाई करेगा। शिकायतकर्ताओं और संबंधित सार्वजनिक प्राधिकारियों की उपस्थिति में मामलों की सुनवाई की जाएगी, ताकि सही उल्लंघन के पीड़ितों की शिकायतों के निवारण के लिए कुछ निर्णय लिए जा सकें। पूर्ण आयोग के बैठने के बाद, आयोग छत्तीसगढ़ में मानव अधिकारों की स्थितियों और संबंधित मुद्दों का पता लगाने के लिए 3.15 बजे से 3.45 बजे तक गैर-सरकारी संगठनों के साथ एक बैठक करेगा। इसके बाद, अध्यक्ष और सदस्य मीडिया को ओपन हियरिंग एंड कैंप सिटिंग ’के परिणाम के बारे में जानकारी देंगे।
आयोग ने छत्तीसगढ़ के प्रमुख समाचार पत्रों में पब्लिक नोटिस के माध्यम से रायपुर में ओपन हियरिंग के लिए शिकायतें आमंत्रित की थीं। प्रतिक्रिया में प्राप्त 54 शिकायतें, खुली सुनवाई के लिए ली जा रही हैं और जिसके लिए संबंधित सार्वजनिक अधिकारियों से रिपोर्ट बुलाई गई है। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के पीड़ितों के 7 अन्य मामले, जो पहले से ही आयोग के विचार के तहत हैं और सार्वजनिक अधिकारियों की ओर से लंबित हैं, को ‘कैंप सिटिंग’ में सुनवाई के लिए शामिल किया गया है। आयोग ने देश के विभिन्न राज्यों में ‘ओपन हियरिंग एंड कैंप सिटिंग ’का आयोजन किया है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button