खास खबरछत्तीसगढ़राजनीतिसमाचार

भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया

रायपुर/भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया व्यक्त की। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के रसोई गैस के दामों में वृद्धि से गरीबों पर प्रभाव नहीं पड़ता वाले बयान पर तंज कसा। कहा कि तीन सुरक्षा लेयर में घिरे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को गरीबों की गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी का अहसास कैसे होगा? जब गरीब, मजदूर, किसान रमन सिंह के काले कोट वाले बंदूकधारी सुरक्षा गार्ड को देखकर कोसों दूर रहेंगे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह गरीब, किसान, मजदूर के करीब होते तो जनता उसे सत्ता से बेदखल नहीं करती। रसोई गैस के बढ़े हुये दाम से गरीब एवं मध्यमवर्गीय परिवार का हाल बेहाल है। मोदी सरकार की महती उज्जवला योजना नाम बड़े दर्शन छोटे को चरित्रार्थ कर रही है। रसोई गैस के दामों में बेतहाशा बढ़ोत्तरी और सब्सिडी में कटौती के चलते योजना के हितग्राही खाली सिलेंडर को बगल में रखकर कंडे से चूल्हा जलाकर खाना पका रही है और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह रसोई गैस के वृद्धि का प्रभाव गरीबों पर नहीं पड़ता जैसी बयान देकर महंगाई की मार झेल रही गरीब जनता के जख्म पर नमक उड़ेलेने का काम कर रही है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार आम जनता से वादाखिलाफी कर रही है महंगाई कम करने का वादा कर सरकार बनाने वाली भाजपा के लिये महंगाई कभी डायन हुआ करती थी। आज केन्द्र की मोदी सरकार की गलत नीतियां आम जनता के लिये डायन से कम नहीं है। मोदी सरकार के गलत नीतियों के कारण महंगाई, बेरोजगारी बढ़ रही है। देश आर्थिक मंदी के बुरे दौर से गुजर रहा है। व्यापार-व्यवसाय बंद हो रहे है। सरकारी कंपनियां बिक रही है। किसान आत्महत्या कर रहे है। उद्योगपति देश छोड़कर जा रहे है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि आम जनता को यूपीए सरकार के दौरान मिलने वाली गैस सिलेण्डर के दाम की तुलना में वर्तमान में दोगुने दाम पर सिलेंडर खरीदने पड़ रहे है। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में जोर जबर्दस्ती गरीब, किसान, मजदूर, महिलाओं को मिलने वाले गैस की सब्सिडी को बंद किया गया। मोदी भाजपा की सरकार अब सिलेंडर के दाम खुद बढ़ाने के बाद सब्सिडी की राशि बढ़ाने का खोखला दावा कर रहे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button