खास खबरसमाचार

एमआईसी ने रायपुर नगर निगम के जोनो की संख्या 8 से बढ़ाकर 10 करने प्रस्ताव की अनुशंसा की

रायपुर। आज नगर पालिक निगम रायपुर के मुख्यालय भवन व्हाईट हाउस के तृतीय तल सभा कक्ष में महापौर एजाज ढेबर की अध्यक्षता एवं निगम आयुक्त सौरभ कुमार, एमआईसी सदस्य ज्ञानेष शर्मा, रितेष त्रिपाठी, कुमार मेनन, श्रीमती अंजनी राधेष्याम विभार, सतनाम सिंह पनाग, नागभूषण राव यादव, अजीत कुकरेजा, समीर अख्तर, सहदेव व्यवहार, श्रीमती द्रौपती हेमंत पटेल, सुन्दर लाल रूखमणी जोगी, जितेन्द्र अग्रवाल, सुरेष चन्नावार, आकाष तिवारी, निगम अपर आयुक्त लोकेष्वर साहू, पुलक भट्टाचार्य, उपायुक्त एसपी साहू, निगम सचिव व जोन कमिष्नर श्री विनोद पांडे, सभी जोन कमिश्नर।, कार्यपालन अभियंताओं, विभागो के प्रभारी अधिकारियों की उपस्थिति में हुई।
एमआईसी की बैठक में पहली बार एमआईसी की बैठक को लेकर महापौर एजाज ढेबर ने सभी एमआईसी सदस्यों का बैठक में स्वागत किया। महापौर ने कहा कि सबके मन मे यह भावना है कि ऐसा काम किया जाये कि रायपुर देश में स्वच्छता में अव्वल नंबर का शहर बन सके। ज्यादा से ज्यादा कार्य रायपुर में सुचारू तरीके से संचालित हो। उन सभी का लक्ष्य रायपुर में लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिषत राजस्व वसूली सुनिष्चित करने का है।
एमआईसी की बैठक में सामान्य प्रषासन एवं विधि विधायी विभाग की ओर से नगर निगम रायपुर में 2 अतिरिक्त जोन / वार्ड समिति के गठन का प्रस्ताव रखा गया। जो सर्व सम्मति से पारित करके सामान्य सभा में रखने का निर्णय लिया गया। प्रस्ताव में कहा गया कि नगर निगम में वर्तमान में आठ जोन कार्यालय संचालित है। रायपुर शहर की जनसंख्या वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार 10 लाख 48 हजार 120 है। जनसंख्या के मान से 2 अतिरिक्त जोन कार्यालय स्थापित किये जाकर जोनो की संख्या 10 की जा सकती है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार रायपुर नगर निगम के जोन 1 की कुल जनसंख्या 1 लाख 22 हजार 743, जोन 2 की जनसंख्या 1 लाख 49 हजार 974, जोन 3 की जनसंख्या 1 लाख 16 हजार 779, जोन 4 की जनसंख्या 1 लाख 32 हजार 351, जोन 5 की जनसंख्या 1 लाख 21 हजार 577, जोन 6 की जनसंख्या 1 लाख 60 हजार 791, जोन 7 की जनसंख्या 83 हजार 369, जोन 8 की जनसंख्या 1 लाख 60 हजार 536 है। इसे मिलाकर रायपुर शहर की कुल जनसंख्या वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार कुल 10 लाख 48 हजार 120 है। आयुक्त ने बताया कि एमआईसी एवं सामान्य सभा में 2 जोन अतिरिक्त रूप से बनाने का प्रस्ताव पारित होने पर वे 2 नये जोनो में सेटअप के अनुरूप पदस्थापना एवं नियमानुसार आवष्यक कार्यवाही की शासन से सामान्य सभा व एमआईसी के पारित प्रस्ताव के अनुरूप प्राप्त करेंगे।
एमआईसी ने नगर निगम के मुख्यालय के विभिन्न विभागों में निजी प्लेसमेंट से 43 कम्प्यूटर आपरेटर व 2 स्टेनोग्राफर उपलब्ध कराने 12 माह के कार्य व्यय 90 लाख 56 हजार 888 की वित्तीय प्रषासकीय स्वीकृति एवं निविदा बुलवाने की अनुमति देने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया। मुख्यालय स्थित विभागों के कार्यालयीन कार्य संपालन हेतु निजी प्लेसमेंट के 42 कम्प्यूटर आपरेटर एवं 2 स्टेनोग्राफर उपलब्ध कराने हेतु जारी कार्यादेष 31 जनवरी 2019 से प्रारंभ होकर 31 जनवरी 2020 को समाप्त हो गया है। नई निविदा की कार्यवाही एमआईसी के संकल्प अनुरूप की जायेगी। उक्त कार्य संपन्न होने कार्यादेष नया जारी होते तक 2 माह का समय संभावित है। इस पर अनुबंधित प्लेसमेंट कंपनी को उससे लिखित सहमति प्राप्त कर पूर्व स्वीकृत दर अन्य व्यय सहित 14 लाख 59 हजार 108 रू. के अतिरिक्त व्यय 31 जनवरी 2020 तक व्यय 85 लाख 64 हजार 598 रू. सहित अतिरिक्त व्यय 2 माह की समय वृद्धि हेतु कुल 1 करोड 23 हजार 706 रू. की 2 माह की समय वृद्धि सहित स्वीकृति प्रस्ताव पर एमआईसी ने सर्वसम्मति से प्रदत्त की।
एमआईसी ने एकीकृत बाल विकास परियोजना अधिकारी रायपुर शहरी 2 से प्राप्त पत्र दिनांक 14 अक्टूबर 2019 के अनुसार आंगनबाडी कार्यकर्ता कुमारी छाया गोस्वामी राजीव गाॅधी वार्ड 22 साहू पारा 2 को लंबे समय से अनुपस्थित रहने के कारण सेवा से बर्खास्त करने की अनुषंसा के प्रस्ताव को नियमानुसार स्वीकृति प्रदान की।
एमआईसी ने वित्त लेखा अंकेक्षण विभाग के प्रस्ताव अनुरूप निगम कर्मचारियों के 19 प्रकरणों में चिकित्सा प्रतिपूर्ति राषि को सर्वसम्मति से पारित किया ।
एमआईसी ने महापौर श्री ढेबर की अध्यक्षता में बैठक में महापौर द्वारा 5 फरवरी 2020 को एमआईसी की स्वीकृति की प्रत्याषा में दी गई स्वीकृति के उपरांत रायपुर नगर निगम के जोन के तहत टैªक्टर टैंकर के माध्यम से ग्रीष्मकालीन पेयजल परिवहन के कार्य हेतु किराये से ट्रैक्टर टैंकर उपलब्ध कराने विगत 8 फरवरी 2020 को निविदा आमंत्रित की गई। निविदा प्राप्त होने की अंतिम तिथि 28 फरवरी 2020 है। प्रकरण में अनुमानित वार्षिक व्यय राषि डेढ करोड रू. को विचारोपरांत एमआईसी ने प्रस्ताव अनुसार स्वीकृति दी । आयुक्त श्री कुमार ने एमआईसी सदस्यों को जोनवार सभी जोनो में सर्वे से चिन्हांकित पेयजल संकट ग्रसित क्षेत्रों की जानकारी दी एवं कहा कि पेयजल समस्या से संबंधित सुझाव प्रदान करें ताकि समाधान हेतु कार्य योजना तैयार करते समय उन सुझावों को जनहित में अमल में लाया जा सके एवं नागरिको को सुगम पेयजल आपूर्ति गर्मी में निर्बाध रूप से की जा सके। उन्होने गर्मी में सुगम पेयजल आपूर्ति की तैयारियों की जानकारी एमआईसी सदस्यों को दी । अमृत मिषन के तहत टंकी प्रारंभ करने एवं पाईप लाईन बिछाने के कार्यो की जानकारी एमआईसी सदस्यों को बैठक में दी गई।
एमआईसी ने शहरी गरीबी उपषमन एवं समाज कल्याण विभाग के तहत राष्ट्रीय परिवार सहायता पेंषन योजना के कुल 46 पात्र 42, अपात्र 4 प्रकरणों की अनुषंसा बैठक में की। वहीं निराश्रित पेंषन योजना में सभी आठ जोनो के कुल 169 नये पेंषन प्रकरणों पात्र 162, अपात्र 7 प्रकरणों की अनुषंसा बैठक में की गई।
एमआईसी की बैठक में महापौर श्री ढेबर की अध्यक्षता में एमआईसी के समक्ष रायपुर शहर में मच्छरों पर जनस्वास्थ्य सुरक्षा हेतु कारगर नियंत्रण निगम क्षेत्र में लगाने से संबंधित प्रस्तुतिकरण दिया गया। बैठक में राजस्व वसूली को लेकर चर्चा की गई। अधिकारियों ने जानकारी दी कि संपत्तिकर की वसूली से संबंधित नियम के अनुरूप संपत्तिकर दाता नागरिक को नियमानुसार संपत्तिकर स्वनिर्धारण विवरणी प्रस्तुत करना होता है। इसी के अनुरूप संपत्तिकर लिया जाता है। यदि उन्होने सही तरीके से संपत्ति कर स्वनिर्धारण विवरणी नहीं दी है तो उसमें निगम अमले द्वारा निरीक्षण जांच कर गलत विवरणी मिलने पर संबंधित संपत्तिकर दाता नागरिक से संपत्तिकर राषि से 5 गुना जुर्माना वसूली का नियमानुसार प्रावधान प्रचलित है। अधिकारियों ने कहा कि जीआईएस सर्वे संपत्ति के आईडेंटीफिकेषन के लिए करवाया गया। उसमें हुई त्रुटियों को सुधारा गया है। फिर भी यदि किसी संपत्तिकर दाता नागरिक को यह गलत लग रहा है तो वे संपत्तिकर देते समय अंडर प्रोटेस्ट संपत्तिकर देना लिख सकते है। जिससे उसकी जांच करवायी जायेगी एवं कर दाता के सही होने पर अगले वर्ष के संपत्तिकर में अतिरिक्त ली गई राषि कर में समायोजित कर ली जायेगी। आयुक्त ने संपत्तिकर वसूली के नियम प्रावधानों की जानकारी एमआईसी को दी एवं सदस्यों की शंकाओं का शमन आयुक्त के निर्देष पर अपर आयुक्तद्वय ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button