खास खबरछत्तीसगढ़समाचार

राजधानी में 25 फरवरी को विवाह, मैरिज और निकाह का संगम, हिन्दू, इसाई और मुस्लिम रीति-रिवाजों से एक साथ विवाह बंधन में बंधेंगे 550 जोड़े

सर्वधर्म सम्भाव की मिसाल बनेगा मुख्यमंत्री कन्या विवाह समारोह

रायपुर। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत राजधानी रायपुर के साईंस कॉलेज मैदान में 25 फरवरी को भव्य विवाह समारोह आयोजित किया जा रहा है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित इस विवाह समारोह में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष श्री चरणदास महंत सहित मंत्री, सांसद, विधायको, महापौर और गणमान नागरिकों की उपस्थिति में 550 जोड़े विवाह बंधंन में बंधेंगे। यह विवाह मैरिज,और निकाह का संगम होगा। यहां हिन्दु जोड़ों के साथ 4 जोड़ें क्रिश्चिन समुदाय और 4 जोड़ें मुस्लिम समुदाय के शामिल होंगे। समारोह में हिन्दू, मुस्लिम, इसाई जोड़े अपने-अपने धार्मिक रीति-रिवाजो से एक साथ विवाह बंधंन में बंधेंगे। इन जोड़ों में एक दिव्यांग जोड़ा भी शामिल होगा। साथ ही एक विधवा कन्या का नवजीवन में प्रवेश कराया जाएगा। यह आयोजन सर्वधर्म सम्भाव की मिसाल कायम करेगा। राज्य में पहली बार सामूहिक विवाह स्थल पर ही इन जोड़ों का विवाह पंजीयन नगर निगम रायपुर द्वारा किया जाएगा।
महिला एवं बालविकास विभाग द्वारा इच्छुक दान-दाताओ और गणमान नागरिकों से वैवाहिक कार्यक्रम में उपस्थित होकर जोड़ों को आशीर्वाद देने का अनुरोध किया है। वैवाहिक कार्यक्रम दोपहर 12:30 बजे शुरू होगा। विवाह समारोह को यादगार बनाने के लिए जबलपुर से शहनाईवादक भी बुलाए गए है।
सामूहिक विवाह समारोह अपने आप में खास होगा क्योंकि इसमें परम्पराओं के साथ वैज्ञानिक पहलुओं को भी शामिल किया गया है। विवाह समारोह में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जोड़ों के स्वास्थ्य परीक्षण के साथ जीवन उपयोगी किट प्रदान किया जाएगा। विभाग द्वारा स्वस्थ्य और सुखद जीवन के लिए वधुओं की एनीमिया जांच भी की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त शासन के अन्य विभाग भी विवाह समारोह में अपनी सहभागिता निभाएंगे। विवाह वेदी बनाने और अन्य व्यवस्थाओं की देखरेख का काम लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाएगा। उद्यानिकी विभाग की तरफ से सभी जोड़ों को निःशुल्क फलदार पौधा दिया जाएगा। महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ से वर-वधु को कपड़े,श्रृंगार के सामान,मंगलसूत्र, बिछिया सहित के साथ दैनिक उपयोग की वस्तुएं उपहार में दी जाएंगी। वर-वधु के परिजनों के लिए भोजन की व्यवस्था भी विभाग द्वारा की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button