समाचार

कलेक्टर सहित जनप्रतिनिधियों ने किया एल्बेंडाजोल एवं डीईसी दवाई का सेवन

गरियाबंद। गरियाबंद कलेक्टर श्री श्याम धावड़े, अनुविभागीय अधिकारी श्री जे.आर. चौरसिया सहित जनप्रतिनिधियों ने एल्बेंडाजोल एवं डी.ई.सी की खुराक खाकर फाईलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम का शुभारंभ किया। आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में बैठक के दौरान उपस्थित अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने दवाई का सेवन किया। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी दवाई वितरण किया गया। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नागाबुड़ा के छात्र-छात्राओं को एल्बेडाजोल एंव डी.ई.सी की खिलाया गया। इस दौरान जनपद अध्यक्ष गरियाबंद श्रीमती लालिमा ठाकुर मौजूद थी।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एनआर नवरत्न ने बताया कि पल्स पोलियों की भांति 26 फरवरी 2020 तक आंगनबाड़ी केन्द्रों में बूथ स्तर पर सामुहिक दवा सेवन गतिविधि में 2 वर्ष से अधिक सभी आयु वर्ग के हितग्राहियों को डॉट्स पद्धति अर्थात समक्ष में दवा सेवन कराया जायेगा। जिसमें डी.ई.सी.की गोली उम्रवार 2 से 5 वर्ष के बच्चों 1 गोली, 06 से 14 वर्ष के बच्चों को 2 गोली, 15 से 19 वर्ष को 3 गोली तथा 20 वर्ष से अधिक आयु के हितग्राही को 3 गोली दिया जा रहा है। 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाओं, अति वृद्ध व गंभीर बीमारीयों से पीडि़तों को यह दवा नहीं खिलाई जायेगी। तत्पश्चात् 27 से 29 फरवरी 2020 तक घर-घर जाकर छुटे हुए हितग्राहियों को फाईलेरिया रोधी डी.ई.सी की गोली का सेवन कराया आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा मितानिनों द्वारा कराया जायेगा। जिले भर में कुल 5 लाख 82 हजार 330 लोगों को (हाथी पांव) फाईलेरिया रोधी डी.ई.सी की गोली सेवन कराये जाने का लक्ष्य रखा गया है तथा लगभग 2 लाख 17 हजार 661 बच्चों को एल्बेन्डाजोल की गोली खिलाई जायेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button