खास खबरछत्तीसगढ़समाचार

केन्द्र सरकार के 1.70 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज का भाजपा ने किया स्वागत

लॉक डाउन में सबको राहत देकर केन्द्र सरकार ने संवेदनक्षम नेतृत्व का परिचय दिया

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने कोरोना वायरस संक्रमण के वैश्विक संकट से मुकाबले के लिये भारत की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार के दूरदर्शितापूर्ण एवं संवेदनशील प्रयासों को अभिनन्दनीय बताया है। भाजपा ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मुकाबले के लिये घोषित लॉकडाऊन के मद्देनजर केन्द्र सरकार ने 1.70 लाख करोड़ रुपए का राहत पैकेज घोषित कर देश के गरीबों को इस संकट की घड़ी में बड़ी राहत दी है। यह घोषणा हमारे उस संकल्प का प्रतीक है कि देश का कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेण्डी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजनाओं के तहत गरीबों के लिए घोषित पैकेज का स्वागत करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार का यह कदम उसके संवेदनशील होने का प्रमाण तो है ही साथ ही, इससे यह भी स्पष्ट हो रहा है कि केन्द्र सरकार इस संकट से निपटने का सुविचारित दृष्टिकोण रखती है और देश की जनता की फ़िक्र प्रधानमंत्री श्री मोदी एक अभिभावक की तरह कर रहे हैं। श्री उसेण्डी ने कहा कि इस पैकेज की घोषणा के बाद केन्द्र सरकार की ओर से किसानों, दिव्यांगों, महिलाओं, मनरेगा श्रमिकों व मजदूरों के खातों में सीधा पैसा भेजा जा रहा है ताकि कोरोना महामारी का मुकाबला कर रहे इन सभी लोगों को लॉकडाऊन के चलते होने वाली दिक्कतों से राहत मिल सके। श्री उसेण्डी ने कहा कि कोरोना की जंग में जूझ रहे स्वास्थ्य विभाग के लोगों का केन्द्र सरकार की ओर से 50 लाख रुपए का बीमा कराना भी केन्द्र सरकार का सराहनीय कदम है।
भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री व सांसद सुश्री सरोज पाण्डे ने कहा कि देशव्यापी लॉकडाऊन के बाद प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार द्वारा घोषित 1.70 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज से लॉकडाऊन से जूझते गरीब मजदूरों समेत सभी वर्गों को बड़ी राहत मिलेगी। सुश्री पाण्डे ने कहा कि केन्द्र सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों और वृद्धाओं का इस पैकेज में विशेष ध्यान रखा है। विशेषकर महिलाओं के लिए केन्द्र सरकार ने विशेष प्रावधान करके मातृशक्ति की चिन्ताओं को कम किया है। आने वाले तीन माह तक 20.5 करोड़ महिलाओं के जनधन खाते में 500 रुं प्रतिमाह जमा होंगे। इसी तरह 8.3 करोड़ बीपीएल परिवारों को उज्ज्वला योजना के तहत तीन माह तक मुफ्त गैस सिलेण्डर देने और स्वसहायता समूहों के माध्यम से देश के सात करोड़ परिवारों के लिए एनआरएलएम के माध्यम से अब 10 लाख के बजाय 20 लाख रुपए दिए जाएंगे। इसी तरह गरीब मजदूरों व नौकरीपेशा लोगों के लिए भी केन्द्र सरकार ने प्रावधान करके अपने संवेदनक्षम नेतृत्व का परिचय दिया है।
भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद रामविचार नेताम ने इस राहत पैकेज की घोषणा करने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का अभिनंदन करते हुए कहा कि इस मुश्किल घड़ी में कोरोना महामारी को हराने 1.70 लाख करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता से केंद्र सरकार ने देश के हर वर्ग के लिए इस संकट की घड़ी में अभिभावक की भूमिका का निर्वहन किया है। हम सभी को इस महामारी से बचाने वाले स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए 50 लाख का बीमा एक बेहद महत्वपूर्ण कदम है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानों के खातों में दो हजार रुपए की किश्त और दिव्यांगों को एक हजार रुपए डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके खाते में डाला जाएगा। 20 करोड़ महिला जनधन खाते में अगले तीन महीने तक प्रति महीने 500 रुपए दिए जाएंगे। ये सभी फैसले अति सराहनीय हैं । उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थी महिलाओं को अगले तीन महीने तक गैस सिलेंडर मुफ्त देने का फैसला भी अति महत्वपूर्ण है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button