समाचार

आपातकालीन खान पान हेतु ज़िला प्रशासन की नई व्यवस्था

भोजन व्यवस्था के लिए वार्ड वार सेवा देंगे एन.जी.ओ.,वार्ड मैपिंग से जल्द और गर्म भोजन मिलेगा जरूरतमंदो को

आपातकालीन खान पान सेवा हेतु जारी पुराने सभी अनुमति निरस्त कर अब नए पास देगा जिला प्रशासन

रायपुर। जिला नोडल अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह ने सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों की बैठक लेकर कहा है कि लॉक डाउन की वर्तमान परिस्थितियों में अब पका भोजन पैकेट जरूरतमंद व्यक्तियों एवं परिवारों तक पहुंचाने वार्डवार मैपिंग की जा रही है। उन्होंने कहा है कि ऐसे एन.जी.ओ. जिन्होंने अभी तक जिला प्रशासन को भोजन वितरण की अपनी गतिविधियों की जानकारी नहीं दी है, वह सभी 16 अप्रैल को शाम 4:00 बजे तक वार्डवार जिम्मेदारी के लिए अपनी व्यवस्था की जानकारी अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराएं।
नोडल अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह ने 50 से भी अधिक एन.जी.ओ. के पदाधिकारियों से मिले एवं उनकी गतिविधियों के संबंध में विस्तृत जानकारी ली। सभी ने माना कि जरूरतमंद अंतिम व्यक्ति तक भोजन पहुंचाने यह आवश्यक है कि गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए अब कहीं भी भोजन बांटने की जगह एक निश्चित वार्ड व क्षेत्र में अपनी सेवाएं देना चाहिए जिससे भोजन की गुणवत्ता भी बनी रहे, और पूर्ण उत्तरदायित्व के साथ सभी संगठन हर जरूरतमंद तक शीघ्र ही भोजन उपलब्धता सुनिश्चित कर सके।
डॉ. सिंह ने अवगत कराया कि शीघ्र ही भोजन वितरण की नई व्यवस्था लागू होगी,जिसके लिए हर एन.जी.ओ. की वार्ड वार मैपिंग कर ज़िम्मेदारी दी जा रही है। ज़िला प्रशासन के साथ पूर्ण समन्वय के साथ इससे अब एनजीओ बेहतर ढंग से जरूरतमंदो तक भोजन सुलभ करा सकेंगे।उन्होंने बताया कि सामाजिक दूरी के सिद्धांत का अनुपालन करने अब तक आपातकालीन खान पान सेवा से पूर्व में जारी सभी प्रकार के पास निरस्त कर दिए जाएंगे और वार्ड वार सेवा में लगी सामाजिक संस्थाओं को प्रशासन द्वारा नियमानुसार अब नए पास जारी किए जाएंगे। उन्होंने आगे कहा है कि सभी एन.जी.ओ. अपनी अब तक की सेवा तथा भविष्य में वार्डवार भोजन उपलब्ध कराने अपने उपलब्ध संसाधनों की जानकारी गुरुवार शाम 4:00 बजे तक उपलब्ध कराएं। बैठक में विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी भी मौजूद थे, जिनसे सुविधा अनुसार वार्डवार मैपिंग के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई।
एन.जी.ओ. की सहायता के लिए नगर निगम के अधिकारी एवं कर्मचारी की भी साथ में ड्यूटी जिला प्रशासन द्वारा लगाई जा रही है। पूरी व्यवस्था में इस बात का ध्यान रखा जा रहा है कि उत्तम भोजन प्रशासन की निगरानी में सभी संगठन हर घर तक सुविधाजनक ढंग से पहुँचा सकें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button