समाचार

शराब के अवैध कारोबार के राजनीतिक संरक्षण का ख़ुलासा : सुंदरानी

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने शराब तस्करी के मामले में मुंगेली जिले के लोरमी क्षेत्र के एक कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी को लेकर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला है। श्री सुंदरानी ने कहा कि इस मामले ने कांग्रेस और प्रदेश सरकार को पूर्ण शराबबंदी के मुद्दे पर ढोंगी साबित किया है, वहीं कोरोना संकट के इस दौर में भी पुलिस कर्मियों के सहयोग से मध्यप्रदेश से शराब की तस्करी का यह मामला लॉकडाऊन के प्रति प्रदेश सरकार की शर्मनाक व आपराधिक लापरवाही का नमूना है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक श्री सुंदरानी ने कहा कि शराब तस्करी के इस मामले ने प्रदेश सरकार की बदनीयती को पूरी तरह बेनकाब कर दिया है। सुंदरानी ने कहा कि शराबबंदी के नाम पर प्रदेश सरकार शुरू से ही नौटंकी करती नजर आ रही है और अब तो पुलिस कांस्टेबलों का साथ लेकर कांग्रेस का एक नेता ही शराब तस्करी करता पकड़ा गया है। श्री सुंदरानी ने कहा कि इस मामले से यह एकदम साफ हो गया है कि प्रदेश सरकार के संरक्षण में ही मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र आदि राज्यों से शराब की तस्करी का यह गोरखधंधा बेखटके चलाया जा रहा है। भाजपा शुरू से ही शराब तस्करी के इन मामलों को लेकर प्रदेश सरकार की नीयत पर सवाल उठाती रही है।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक श्री सुंदरानी ने कहा कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार सत्तारूढ़ हुई है, तस्करी के माध्यम से शराब का यह गोरखधन्धा शासन व प्रशासन की मिलीभगत से चल रहा है। इधर, लॉकडाऊन के बावजूद प्रदेश सरकार जिस तरह शराब का कारोबार चलाने की ललक दिखा रही थी उससे ही यह स्पष्ट हो रहा था कि प्रदेश सरकार न तो शराबबन्दी के लिए ईमानदार है और न ही छत्तीसगढ़ को कोरोनामुक्त करने के लिए जारी लॉकडाऊन के प्रति जरा भी गंभीर है। श्री सुन्दरानी ने कहा कि यह बेहद गंभीर है कि एक तरफ कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लॉकडाऊन जारी है, वहीं तमाम कायदे-कानूनों को धता बताकर शराब तस्करी का शर्मनाक कारोबार चलाया जा रहा है। सुंदरानी ने मांग की है कि प्रदेश सरकार इस मामले में संलिप्त कांग्रेस नेता व तीनों पुलिस कांस्टेबल समेत सभी पाँच आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button