खास खबरछत्तीसगढ़

लॉकडाऊन के उल्लंघन और पुलिस जवानों से बदसलूकी के मामले में कांग्रेस विधायक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो : भाजपा……

0 लॉकडाऊन व सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन से कोरोना संक्रमण की आशंका के चलते ग्रामीण चिंतित : श्रीवास्तव

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने बलरामपुर-रामानुजगंज पुलिस जिला के अंतर्गत ग्राम पंचायत मरमा के ग्रामीणों की कांग्रेस विधायक वृहस्पति सिंह के खिलाफ की गई शिकायत पर कारगर कार्रवाई की मांग की है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि लॉकडाऊन का पालन करने की समझाइश देने पर कांग्रेस विधायक ने अपने समर्थकों को साथ पुलिस चौकी पहुँचकर जिस तरह हंगामा खड़ा कर दुर्व्यवहार किया, वह गंभीर आपराधिक आचरण का प्रतीक है।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री श्रीवास्तव ने ग्रामीणों की शिकायत का हवाला देते हुए बताया कि क्षेत्रीय कांग्रेस विधायक सिंह द्वारा लॉकडाऊन का उल्लंघन कर क्षेत्र में चोरी-छिपे बोर खनन का कार्य कराया जा रहा है। गत 13 अप्रैल की रात विधायक के बोर वाहन से आदि मरमा में बोर खनन का काम कराया जा रहा था। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जारी लॉकडाऊन का उल्लंघन कर कराए जा रहे इस कार्य की शिकायत पर पुलिस ने कार्यस्थल पर जाकर इस काम में लगे लोगों को लॉकडाऊन व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की हिदायत दी । इस दौरान ग्रामीणों ने बोर खनन के काम में लगे लोगों के अन्य प्रदेशों का होने की जानकारी दी।। पुलिस पूछताछ के दौरान काम कर रहे लोग इतने नशे में थे कि वे अपना नाम-पता तक सही-सही नहीं बता पा रहे थे। बोर खनन कर रहे प्राय: सभी लोगों ने अपने निवास के तीन-तीन गाँवों का नाम लिया। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि ग्रामीणों को यह आशंका सता रही है कि अन्य स्थानों व प्रदेशों के लोग बिना जानकारी उनके क्षेत्र में इस तरह बोर खनन का का काम कर रहे हैं जिससे कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। लेकिन पुलिस की समझाइश पर कांग्रेस विधायक वृहस्पति सिंह ने पाँच चारपहिया वाहनों में सवार होकर अपने दल-बल के साथ अगले दिन पुलिस चौकी पहुँचकर न केवल हंगामा मचाया, अपितु उनसे अभद्र गाली-गलौज भी की गई, और साथ ही उन्हें बस्तर तबादले की धमकी देकर यह भी कहा गया कि वहां से उनका शव ताबूत में ही लौटेगा। ग्रामीणों पर मारपीट करने का झूठा आरेप भी लगाया गया।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस विधायक सिंह का आचरण मौजूदा कोरोना संकट के मद्देनजर बेहद अशोभनीय तो है ही, साथ ही यह गंभीर आपराधिक आचरण का प्रतीक भी है। एक ओर जहाँ सारे देश में कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाऊन जारी है, उस स्थिति में कांग्रेस विधायक अपने राजनीतिक प्रभाव का शर्मनाक प्रदर्शन कर चोरी-छिपे बोर खनन करा रहे हैं और समझाइश देने पर पुलिस जवानों के साथ दुर्व्यवहार कर उन्हें धमका रहे हैं! श्रीवास्तव ने कहा कि एक जनप्रतिनिधि होकर यदि कांग्रेस विधायक सरकार के जारी दिशा-नर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं तो इससे शर्मनाक स्थिति और क्या हो सकती है? लॉकडाऊन के उल्लंघन और पुलिस जवानों से बदसलूकी के मामले को गंभीरता से लेकर कांग्रेस विधायक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करके प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ को कोरोनामुक्त प्रदेश बनाने की ईमानदार कोशिश करे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button