छत्तीसगढ़समाचार

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित भाजपा के नेता लॉक डाउन में इन हरकतों से अपनी विश्वसनीयता खो बैठे – कांग्रेस

भाजपा नेताओं के राजभवन जाने पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित भाजपाा नेताओं को कोविड-19 महामारी लाक डाउन 3.0 के दौरान मोदी सरकार के अनुमति से देशभर में खुली शराब दुकानों को बंद कराने राष्ट्रपति भवन जाना चाहिए था ?

रमन सिंह और भाजपा के नेता पीएम केयर फंड में आए दानदाताओं का नाम और राशि कहां-कहां खर्च हुई है इसकी जानकारी सार्वजनिक करने के लिये मोदी जी से कहने का साहस दिखायें !

रायपुर। कोविड-19 में शराब बेचने और रमन सरकार के दौरान के किसानों के दो साल का बकाया बोनस देने की मांग को लेकर राजभवन पहुंचे भाजपा नेताओं पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने तंज कसते हुए कहा कि भाजपा नेताओंं की चोरी और सीनाजोरी की आदत गई नहीं है। भाजपा नेता लॉकडाउन में टाइम पास कर रहे हैं। डॉ रमन सिंह सत्ता में रहते 15 साल तक छत्तीसगढ़ कि ढाई करोड़ जनता के साथ धोखा छल फरेबबाजी करते रहे अब विपक्ष में है तब भी जनता को धोखा देंने की आदत से बाज नहीं आ रहे। भाजपा का नेता स्वीकार करें ना करें देेश की जनता समझ गई है कोविड-19 लाक डाउन 3.0 के दौरान देशभर में खुले शराब दुकानों के लिए केंद्र कि मोदी सरकार जिम्मेदार है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने राजभवन पहुंचे भाजपा के नेताओं से सवाल पूछा कोविड-19 महामारी के दौरान लॉक डाउन में देशभर में क्या दुकान खुलेगी, क्या बंद रहेगी यह तय करने का अधिकार किसके पास में है? भाजपा नेताओं को ज्ञात होगा लाकडॉन 1.0 में देशभर में शराब की दुकान मोदी सरकार के निर्देश पर बंद हुआ था? ऐसे में मोदी सरकार ने लॉक डाउन 3.0 में देशभर में शराब, गुटका, तंबाकू बिक्री की छूट क्यों प्रदान की ? पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह सहित भाजपाा नेताओं को कोविड-19 महामारी लाक डाउन 3.0 के दौरान मोदी सरकार के द्वारा देशभर में खोली गई शराब दुकानों को बंद कराने राजभवन के साथ राष्ट्रपति भवन भी जाना चाहिए ?
पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने किसानों के साथ बोनस देने के नाम से 2013 में धोखाघड़ी किया। भाजपा रमन सिंह के हाथों हुई किसानों के साथ धोखाधड़ी से मोदी जी को अवगत कराएं, किसानों का बकाया 2 साल का बोनस के लिए स्पेशल पैकेज लाये? किसानों के साथ कि गई रमन सिंह के धोखा बाजी का प्रयाश्चित करे? कोविड-19 महमारी से निपटने के लिए देशभर से पीएम केयर फंड में अरबों रुपए का डोनेशन आया है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह मोदी सरकार से पीएम केयर फंड एवं केंद्र के खजाने से छत्तीसगढ़ ही नहीं बल्कि देशभर के मजदूरों के खाते में ₹ 7500 जमा कराने की मांग करें। कोविड-19 महामारी से निपटने केंद्र सरकार के द्वारा छत्तीसगढ़ को पर्याप्त मात्रा में पीपीआई किट, टेस्टिंग किट,सहित अन्य जरूरी मेडिकल संसाधन उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है।भाजपा नेता मोदी सरकार से छत्तीसगढ़ को मांग के अनुसार सभी प्रकार के संसाधन उपलब्ध कराये।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने पहले भी किसानों से प्रति क्विं2500 रु में धान खरीदा अभी भी किसानों के खाते में धान का ₹2500 ही जाएगा किसानों के खाते में अंतर राशि जमा होगी।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने सीएम रिलीफ फंड में आई डोनेशन की विस्तृत जानकारी पारदर्शी तरीके से सार्वजनिक की हैं। पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह और भाजपा के नेता पीएम केयर फंड में आए दानदाताओं का नाम और राशि कहां-कहां खर्च हुई है इसकी जानकारी सार्वजनिक करने के लिये मोदी जी से कहने का साहस दिखायें ?

दूसरे राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के मजदूरों की सकुशल वापसी शुरू हो चुकी है छत्तीसगढ़ आ रहे मजदूरों के लिए खाने-पीने रहने की पर्याप्त व्यवस्था है।दूसरे राज्य जा रहे मजदूरों को डी छत्तीसगढ़ के सीमा में भोजन पानी सुरक्षा मुहैया कराई जा रही है उसने लिए वाहनों का प्रबंध सरकार कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button