राजधानीराजनीति

भाजपा नेताओं को न्याय और अन्याय में फर्क नहीं मालूम-कांग्रेस

रायपुर /भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के शहादत दिवस पर शुरू हुई राजीव गांधी किसान न्याय योजना को भाजपा नेताओं के द्वारा किसानों के साथ अन्याय बताने पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा नेताओं को न्याय और अन्याय में फर्क ही नहीं मालूम है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों से किए वादों को पूरा करने के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना जो शुरू की है ये न्याय है,किसानों का कर्ज माफ किये ये न्याय है किसानों की जमीन लौटाये ये न्याय है और 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह और बीते 6 साल से प्रधानमंत्री पद पर विराजमान श्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानों के साथ जो वादाखिलाफी किया ये अन्याय है। रमन सिंह के 15 साल के सत्ता के दौरान हुये किसानों की आत्महत्या का महापाप और किसानों से किए गए वादाखिलाफी के अपराध के बोझ तले दबे भाजपा राजनीतिक दिवालियापन के दौर से गुजर रही है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि 2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा छत्तीसगढ़ में सरकार बनने पर किसानों के धान की कीमत 2100 रुपया प्रति क्विंटल और 300 रुपया बोनस देने का वादा किया था ठीक उसी तरह 2014 लोकसभा चुनाव में किसानों से केंद्र में भाजपा की सरकार बनने पर स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने,महंगाई कम करने,किसानों की आय दुगुनी करने का वादा किया था। लेकिन2013में बनी रमन सिंह की सरकार और 2014 में बनी मोदी की सरकार ने किसानों से वादाखिलाफी कर किसानों के साथ अन्याय किया। मोदी सरकार ने रासायनिक खादों के दामों में बेतहाशा वृद्धि कर , सस्ती डीजल को महंगे दामों में बेचकर मुनाफाखोरी कर महंगाई की मार झेल रहे कर्ज से दबे हताश परेशान मजबूर देशभर के किसानों के ऊपर वज्र प्रहार किया है।किसान सम्मान निधि के नाम से निरंतर किसानों का अपमान मोदी भाजपा की सरकार कर रही है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा के नेताओं को चैलेंज करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं में गैरत बाकी हो तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के द्वारा किसानों से किए गए वादों को पूरा करने शुरू की गई राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तरह ही मोदी सरकार से देशभर के किसानों के लिए स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश के अनुसार उपज का लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य तत्काल लागू कराये।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ के भाजपा नेताओं सांसदों विधायकों को तो किसानों के पक्ष में बोलने का अधिकार ही नहीं है।क्योंकि जब भी किसानों की हित की बात आई है ये सब किसानों के विरोध में ही खड़े रहे हैं,मोदी सरकार ने केंद्रीय शक्तियों का दुरुपयोग कर छत्तीसगढ़ सरकार के धान खरीदी करने पर नियम शर्त थोपी तो भी भाजपा मौन रही। ऐसे लोग आज किसानों के आर्थिक उन्नति खुशहाली तरक्की सक्षम बनाने ,कृषि को लाभकारी बनाने की शुरू की गई राजीव गांधी किसान न्याय योजना पर टीका टिप्पणी कर रहे है। भाजपा किसानों के हितेषी नहीं बल्कि किसानों के विरोधी हैं भाजपा के नेता राजीव गांधी किसान न्याय योजना पर टीका टिप्पणी कर भाजपा के किसान विरोधी नीयत और नीति को आगे बढ़ा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button