छत्तीसगढ़समाचार

केंद्र सरकार के हर निर्णय और योजनाओं के केंद्र में समाज की अंतिम पंक्ति का अंतिम व्यक्ति ही रहा है : डॉ. सरोज

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय महामंत्री व संसद सदस्य (राज्यसभा) डॉ. सरोज पांडेय ने कहा है कि विश्व में भारत और भारतीय नेतृत्व की स्वीकार्यता बढ़ी है और यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सक्षम व सबल नेतृत्व के कारण संभव हुआ है। केंद्र सरकार के हर निर्णय और योजनाओं के केंद्र में समाज की अंतिम पंक्ति का अंतिम व्यक्ति ही रहा है। डॉ. (सुश्री) पांडेय बुधवार को यहाँ कुशाभाऊ ठाकरे स्मृति परिसर में भाजपा द्वारा आहूत जिला जनसंवाद कार्यक्रम के तहत कोरबा जिला की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभा को संबोधित कर रही थीं। विदित रहे, प्रदेश भाजपा द्वारा केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष पूर्ण होने पर जिला स्तर पर इन सभाओं का आयोजन रखा जा रहा है और यह सभा इस क्रम में चौथे दिन की पहली सभा थी।
भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री व सांसद डॉ. (सुश्री) पांडेय ने कहा कि सन 2014 के आम चुनाव से पहले दशकभर का कांग्रेस शासन भ्रष्टाचार और घोटालों का रहा। तत्कालीन प्रधानमंत्री कोई निर्णय ले नहीं सकने वाले, लाचार और मज़बूर थे, वे सिर्फ़ उतना ही कहते, जितना उन्हें संकेत किया जाता। उस काल में देश त्राहि-त्राहि करने लगा था। सन 2014 के आमचुनाव में जब श्री मोदी के प्रधानमंत्रित्व में केंद्र में भाजपा की सरकार अस्तित्व में आई तब उसने अपने कार्यों, योजनाओं व कार्यक्रमों से ग़रीबी मुक्त और भ्रष्टाचार मुक्त भारत की दिशा में देश को आगे ले जाने का काम किया। डॉ. (सुश्री) पांडेय ने स्वच्छता अभियान, उज्ज्वला गैस कनेक्शन योजना, जन-धन खाता समेत अनेक योजनाओं व ग़रीब हितैषी कार्यक्रमों का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में ये सिर्फ़ योजनाएँ नहीं, बल्कि एक नई कार्यप्रणाली और संस्कृति का दर्शन हैं जिनकी बुनियाद पर केंद्र सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में ऐतिहासिक, साहसिक व क्रांतिकारी फैसले लिए और राष्ट्रीय अखंडता, स्वाभिमान व सामाजिक समानता की अवधारणा को मज़बूत किया।
मौज़ूदा कोरोना संकट की चर्चा कर डॉ. (सुश्री) पांडेय ने कहा कि एक ओर जब विश्व की आर्थिक महाशक्तियाँ इस महामारी के आगे घुटने टेकती नज़र आ रही है, तब प्रधानमंत्री श्री मोदी ने दूरदर्शितापूर्ण निर्णय लेकर भारत के सामर्थ्यवान नेतृत्व का लोहा मनवाया और विश्व ने भारत की ओर आशाभरी निगाहों से दोखा, भारत से मदद मांगी और भारत ने यथासंभव विश्व के देशों की मदद की। दुर्भाग्य से विपक्ष इस मुद्दे पर भी प्रलाप करता रहा। कोरोना काल में देश की अर्थव्यवस्था को सम्हालने और एक भारत-श्रेष्ठ भारत के साथ ही आत्मनिर्भर भारत बनाने की दिशा में केंद्र सरकार बढ़ रही है और इसके लिए 20 लाख करोड़ रुपयों का पैकेज केंद्र सरकार ने घोषित किया है। प्रवासी श्रमिकों के वन नेशन-वन राशन कार्ड और किसानों के लिए एक देश-एक बाजार-एक मंडी का क्रांतिकारी फैसला लेकर केंद्र सरकार ने अपने संवेदनक्षम नेतृत्व का परिचय दिया है।
भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री व सांसद डॉ. (सुश्री) पांडेय ने प्रदेश सरकार पर संघीय व्यवस्था का पालन नहीं करने का आरोप दुहराते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं व आलाकमान के समक्ष अपना ग्राफ ऊँचा करने की ललक में न केवल संघीय व्यवस्था की अवहेलना की, अपितु कोरोना काल में प्रदेश की जनता की स्वास्थ्य-सुरक्षा को दांव पर भी लगा दिया। यह प्रदेश सरकार किसी भी मोर्चे पर ईमानदारी से काम नहीं कर रही है। शराबबंदी करने के बजाय शराब के पैसों से सरकार चलाने का काम हो रहा है। जनता का विश्वास तोड़ने वाली ऐसी प्रदेश सरकार की नेतृत्वहीनता, कुनीतियों और बदनीयती के बारे में भी प्रदेश की जनता को कार्यकर्ता अवगत कराएँ।

सभा की शुरुआत कोरबा ज़िला भाजपा अध्यक्ष अशोक चावलानी के संबोधन से हुई। भाजपा वर्चुअल रैली के प्रदेश के सह संयोजक व प्रदेश प्रवक्ता भूपेंद्र सवन्नी ने सभा की कार्यवाही संचालित करते हुए प्रास्ताविक भाषण दिया। कार्यक्रम के अंत में भाजपा नेता लोकेश कावड़िया ने सबको आत्मनिर्भर भारत की संरचना का संकल्प दिलाया। जन संवाद की शुरुआत में भारतीय सीमा पर शहीद हुए प्रदेश के गणेशराम कुंजाम सहित सभी शहीद जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई। आभार प्रदर्शन अभियान के ज़िला समन्वयक विकास महतो ने किया। इस मौके पर भाजपा वर्चुअल रैली के प्रदेश संयोजक व पूर्व मंत्री राजेश मूणत, पूर्व मंत्री ननकीराम कँवर, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष बनवारीलाल अग्रवाल, लखनलाल देवांगन, पूर्व विधायक रामदयाल उईके, तरुण मिश्र आदि काफी संख्या में पदाधिकारी, कार्यकर्ता वर्चुअली जुड़े थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button