थाना उरला क्षेत्रांतर्गत सरोरा स्थित ज्योति स्ट्रक्चर कंपनी में चोरी करने वाले 01 आरोपी एवं खरीददार सहित 02 गिरफ्तार ……



थाना उरला क्षेत्रांतर्गत सरोरा प्रिंस ढ़ाबा के सामने स्थित बंद पड़ी ज्योति स्ट्रक्चर कंपनी में दिया था चोरी की घटना को अंजाम।
विगत 02 वर्षो से बंद है कंपनी।
कंपनी की दीवाल फांदकर अंदर प्रवेश कर बड़े ही शातिर तरीके से किया था वारदात।
आरोपी यशवंत गोयल को चोरी का सामान खरीदने पर धारा 411 भादवि. के तहत् किया गया है गिरफ्तार।
दोनों आरोपी पूर्व में भी चोरी के मामलों में रह चुके है जेल निरूद्ध।
आरोपियों के कब्जे से चोरी की लोहे की एंगल एवं अन्य लोहे का सामान किया गया है जप्त।
जप्त मशरूका की कीमत है लगभग 50,000/- रूपये।
आरोपियों के विरूद्ध थाना उरला में अपराध क्रमांक 220/20 धारा 457, 380, 411 भादवि. का अपराध किया गया है पंजीबद्ध।
विवरण – प्रार्थी अरविंद सिंग ने थाना उरला में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह जिला बलिया उ0प्र0 का रहने वाला है तथा प्रार्थी ज्योति स्ट्रक्चर सरोरा कंपनी में गार्ड की नौकरी करता है, जहां ज्योति स्ट्रक्चर कंपनी का लोहे से संबंधित सामान रखी है। उक्त कंपनी लगभग 02 वर्षो से बंद पडी है लेकिन कंपनी ने काफी सामान कलपुर्जे, टावर लाइन के पार्ट तथा अन्य कई सामान रखा है जिसकी सुरक्षा के लिये मालिक द्वारा प्रार्थी को गार्ड ड्यूटी में रखा गया है। प्रार्थी के मालिक मनी भाई कभी- कभी आकर देख रेख करते है, करीब एक सप्ताह पहले अज्ञात चोर कंपनी का दीवाल फांद कर प्लाट के परिसर में प्रवेश कर प्लाट अंदर रखंे लोहे के सामान चोरी कर ले गये थे। दिनांक 07.07.2020 के रात्रि लगभग 02.00 बजे कुछ अज्ञात व्यक्ति आये और प्लाट मेे घुसकर प्लाट के अंदर रखे चैनल, तार, एंगल, पत्ता प्लेट, क्लैम्प बोल्ट आदि मशीनरी सामान कीमती लगभग 48,000 रूपये को चोरी कर ले गये है। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना उरला में अपराध क्रमांक 220/20 धारा 457, 380 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय कुमार यादव द्वारा प्रकरण को गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध एवं थाना प्रभारी उरला को अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर उनकी गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देशन में एक विशेष टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया गया एवं घटना के संबंध में प्रार्थी, कंपनी में आने-जाने वाले अन्य लोगों तथा आसपास के लोगों से विस्तृत पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों को खंगालने के साथ ही अज्ञात आरोपी के संबंध में तकनीकी विश्लेषण भी किया गया। अज्ञात आरोपी की पतासाजी हेतु मुखबीर लगाए गये। इसी दौरान आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि उरला निवासी बस्ती अजय टण्डन जो पूर्व में भी चोरी के प्रकरणों में जेल निरूद्ध रह चुका है को दिनांक घटना को कंपनी के आसपास देखा गया था जिस पर टीम द्वारा अजय टण्डन को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर उसके द्वारा चोरी की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपी अजय ने पूछताछ में बताया कि वह चोरी के सामान को गुढियारी निवासी यशवंत गोयल जो कबाड़ी का काम करता है के पास बिक्री कर दिया है। जिस पर टीम द्वारा यशवंत गोयल को चोरी का सामान क्रय करने के मामले में गिरफ्तार किया गया। आरोपियों की निशानदेही पर उनके कब्जे से चोरी की लोहे का एंगल एवं लोहे का अन्य सामान कीमती 50,000/- रूपये जप्त किया गया है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।

गिरफ्तार आरोपी

  1. यशवंत गोयल पिता नोहर उम्र 34 वर्ष निवासी अशोक नगर गुढ़ियारी रायपुर।
  2. अजय टंडन उर्फ चिचि पिता पिला राम उम्र 23 वर्ष निवासी उरला बस्ती रायपुर।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button