भगवान दिखाने के नाम पर देश भर में घुम – घुम कर ठगी व चोरी करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह का सदस्य अयुब हसन गिरफ्तार

 थाना पुरानी बस्ती एवं थाना खमतराई क्षेत्र में प्रार्थियों को बनाये थे अपना शिकार।  भगवान दिखाने के नाम पर दोनों प्रार्थियों को अपना शिकार बनाते हुये ले लिये थे लाखों रूपये के सोने एवं चांदी के जेवरात।  आरोपियान पूरे देश भर में मोटर सायकल में घुम - घुम कर देते है ठगी की घटनाओं को अंजाम।  आरोपियान बड़े ही शातिर किस्म के होते है ठग, जो ठगी करने के बाद पीड़ित के पलक झपकते ही, हो जाते है फरार।  गिरफ्तार आरोपी अयुब हसन है मूलतः उत्तराखण्ड का निवासी।  आरोपियों द्वारा अपना - अपना गिरोह बनाकर किया जाता है ठगी व चोरी की घटना।  घटनाआंे में शामिल गिरोह के सदस्य आरोपी रफाकत, परवेज एवं इस्लाम है फरार, जिनकी पतासाजी कर गिरफ्तारी हेतु किये जा रहे है हर संभव प्रयास।  आरोपी अयुब हसन के कब्जे से ठगी व चोरी की चांदी के जेवरात कीमती लगभग 40,000/- रूपये किया गया है जप्त।  आरोपी के कब्जे से अपराध से संबंधित 02 नग मोबाईल फोन भी किया गया है जप्त।  आरोपियों के विरूद्ध थाना पुरानी बस्ती में अपराध क्रमांक 51/21 धारा 420, 34 भादवि. एवं थाना खमतराई मंे अपराध क्रमांक 122/21 धारा 379, 356, 34 भादवि. का अपराध किया गया है पंजीबद्ध।  आरोपियों द्वारा पेन्ड्रा एवं बिलासपुर में भी इसी तरह की ठगी की घटनाओं को दिया गया है अंजाम।  गिरफ्तार आरोपी से इस तरह की अन्य घटनाओं के संबंध में की जा रहीं है विस्तृत पूछताछ।

रायपुर  । प्रार्थिया गार्गी तिवारी ने थाना पुरानी बस्ती में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह महामाया मंदिर के सामने महामाई पारा थाना पुरानी बस्ती रायपुर में अपने परिवार सहित निवास करती है। प्रार्थिया दिनांक 19.02.21 कोे घर से करीब दोपहर 02.30 बजे अकेली पतंजली की दुकान यूनियन बैंक के पास लिली चैक पुरानी बस्ती रायपुर में सामान लेने गई थी, कि पतंजली दुकान के पहले टायर दुकान के पास दो व्यक्ति जिसमें एक लडका काला हाइटेट, जो नेवी कलर का फुल शर्ट एवं जींस तथा दूसरा लडका छोटा हाइट का रंग गोरा, फिरोजा कलर का फुल शर्ट जींस पहने आये और एक लड़का प्रार्थिया को बोला कि मेरा नाम रवि शर्मा है, आप पर शनि ग्रह नक्षत्र है आपके लडका को आज खतरा लग रहा है, कहकर अपना मुट्ठी प्रार्थिया के चेहरे के पास घुमाया और वो लडके बोले की आपके घर में रखंे जेवरों में ग्रह नक्षत्र है, उसे आप ले आये तो हम लोग उसे विमोचित कर देंगे। ग्रह नक्षत्र दूर हो जायेगा तो प्रार्थिया अपने घर गई और अपने घर के लाकर में रखें 02 सोने का सेट, सोने का ब्रेसलेट, गले का चैन, बच्चांे के 02 छोटे चैन, सोने का लाकेट, 03 जोड़ी सोने की चूड़ी 06 नग, 01 सोने का जेन्टस अंगुठी, 05 नग सोने का लेडिस अंगुठी, 02 जोडी बाली सोने का, 02 सोने का सिक्का, चांदी का 02 नग करधन, 01 जोडी मोटा वाला पायल ,04 चांदी का सिक्का, चांदी का सिंदुर डिब्बी 01 नग, बचकानी पायल 02 जोडी, चाबी रिंग 01 नग, एक चांदी का राजस्थानी सिक्का को थैला में रखकर यूनियन बैंक के सामने ट्रांसफार्मर के पास करीबन 30 मिनट में पहुची तो प्रार्थिया के जेवर का थैला वे दोनों लडके ले लिये और बोले कि अपनी मुट्ठी बांधकर 50 कदम आगे जाईये और मुट्ठी खोलकर देखेंगे तो हाथ में माता जी दिखेंगे बोले तो प्रार्थिया ने वैसा ही किया परंतु प्रार्थिया के हाथ में कुछ नहीं दिखा तो वापस आई वे दोनो लड़के नहीं थे। दोनांे अज्ञात लडके प्रार्थिया के सोने व चांदी के थैले में रखे जेवर कीमती करीब 05 लाख रूपये को छल पूर्वक ठगी कर लेकर भाग गये। जिस पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना पुरानी बस्ती में अपराध क्रमांक 51/21 धारा 420, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। प्रार्थिया श्रीमती जी चंद्रावती ने थाना खमतराई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह संतोषी नगर खमतराई में संतोषी मंदिर के पास अपने परिवार सहित निवास करती है तथा घरेलू काम करती है। प्रार्थिया दिनांक 19.02.2021 को अपने पड़ोसी डाॅली एवं खुशी के साथ खमतराई शासकीय दुकान में राशन लेने के लिए गयी थी। प्रार्थिया अपने पड़ोसियों के साथ राशन लेकर वापस अपने घर जा रही थी कि खमतराई पानी टंकी के पास पहुंची थी उसी समय अज्ञात दो व्यक्ति आये और प्रार्थिया को बोले कि आयुर्वेदिक योजना कहां हैं तब प्रार्थिया बोली मुझे नहीं मालूम तब दूसरा व्यक्ति बोला गले में पहने सोने का चैन को निकाल कर हाथ में पकडने बोला और कहा माता दिखेगी। जिस पर प्रार्थिया अपने सोने के चेन को अपने पड़ोसी डाॅली के हाथ में पकडायी तथा वह व्यक्ति डाॅली को भी बोला कि अपने चांदी का अंगूठी अपने हाथ में रखांे और प्रार्थिया और पड़ोसी खुशी को पैदल चलने के लिए बोला उसी समय वह व्यक्ति डाॅली के हाथ से झपट्टा मारा जिससे चैन और अंगूठी नीचे गिर गयी जिससे सोने का चैन और चांदी का अंगूठी को लेकर दोनों व्यक्ति भाग गये। जिस पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 122/21 धारा 379, 356, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
ठगी व चोरी की उक्त घटनाओं को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक पुरानी बस्ती श्री मनोज ध्रुव एवं प्रभारी सायबर सेल श्री रमाकांत साहू को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना पुरानी बस्ती की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा दोनों प्रकरणों के प्रार्थियों सहित घटना से जुड़े लोगों से घटना व अज्ञात आरोपियों के हुलियों के संबंध में विस्तृत पूछताछ करने के साथ ही प्रार्थियों के परिजनों से भी पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थलों का निरीक्षण कर घटना के संबंध में आसपास के लोगों से भी पूछताछ किया गया। घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करने के साथ ही शहर में लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों की मदद से अज्ञात आरोपियों के आने – जाने वाले मार्गो एवं अज्ञात आरोपियों को चिन्हांकित करने के प्रयास किये जा रहे थे। तरीका वारदात के आधार पर किसी बाहरी गिरोह द्वारा ठगी व चोरी की घटनाआंे को अंजाम देना प्रतीत हो रहा था। जिस पर टीम द्वारा बाहरी गिरोह को फोकस करते हुये कार्य प्रारंभ किया गया। अज्ञात आरोपियों के संबंध में प्राप्त सभी फुटेजों को विश्लेषित करते हुये तकनीकी विश्लेषण कर अज्ञात आरोपियों की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान टीम को अज्ञात आरोपियों के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई तथा आरोपियों की उपस्थिति उ.प्र. के कन्नौज में होना पाया गया। जिस पर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु टीम उ.प्र. के कन्नौज रवाना हुई। आरोपी बड़े ही शातिर किस्म के थे जो स्वयं को बचाने हेतु बार – बार अपना स्थान परिवर्तित कर रहे थे टीम के कन्नौज पहुंचते ही आरोपियान फरार होकर उत्तराखण्ड भाग गये। जिस पर टीम उत्तराखण्ड हेतु रवाना हुई तथा टीम द्वारा उत्तराखण्ड पहुंचकर आरोपियों को जिला उधमसिंह नगर में लोकेट किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा आरोपियों को गिरफ्तार करने की योजना बनायी जा रहीं थी कि इसी दौरान आरोपियान पुनः वापस रायपुर की ओर आने लगे जिस पर टीम द्वारा आरोपियों का पीछा करते हुये घेराबंदी कर आरोपी अयुब हसन को गिरफ्तार करने में सफलता मिलीं तथा घटनाओं में शामिल आरोपी रफाकत एवं परवेज निवासी तरबियतपुर सुमाली मेरठ (उ.प्र.) एवं इस्लाम निवासी ग्राम करमालीपुर अमरोहा (उ.प्र.) फरार हो गये। टीम द्वारा गिरफ्तार आरोपी अयुब हसन से कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा अपने गिरोह के फरार साथियों के साथ मिलकर उक्त दोनों घटनाओं को कारित करने के अलावा देश भर में घुम – घुम कर इस प्रकार की ठगी की अन्य घटनाओं को भी कारित करना बताया गया। आरोपी अयुब हसन मूलतः उत्तराखण्ड़ के जिला उधमसिंह नगर के ग्राम ठण्डा नाला का निवासी है जो कलिंदर प्रजाति के लोग है तथा पहाड़, जंगल एवं नाला के किनारे छोटे – छोटे कस्बे बनाकर निवास करते है। आरोपियान अपना गिरोह बनाकर गिरोह के लोगों के साथ पूरे देश भर में मोटर सायकल में घुम – घुम कर इस प्रकार की ठगी की घटनाओं को अंजाम देकर लोगों को अपना शिकार बनाते है। आरोपी उधम सिंह को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से ठगी व चोरी की चांदी के जेवरात कीमती लगभग 40,000/- रूपये एवं अपराध से संबंधित 02 नग मोबाईल फोन जप्त कर आरोपी के विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया। घटनाओं में शामिल फरार आरोपी रफाकत, परवेज एवं इस्लाम की पतासाजी कर उक्त फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के हर संभव प्रयास किये जा रहे है।
आरोपी द्वारा अपने साथियों के साथ मिलकर पेन्ड्रा एवं बिलासपुर में भी इसी तरह की ठगी की घटनाओं को अंजाम दिया गया है।
गिरफ्तार आरोपीः- अयुब हसन पिता कलुवा उम्र 22 साल निवासी ठण्डा नाला थाना गुलरभोज जिला उधमसिंह नगर उत्तराखण्ड़।

आरोपी को गिरफ्तार करने व मशरूका बरामद करने में उपनिरीक्षक किशन कुंभकार थाना पुरानी बस्ती, सायबर सेल से प्र.आर. सैय्यद ईरफान, राधाकांत पाण्डेय, आर. अनिल पाण्डेय, अभिषेक सिंह, उपेन्द्र यादव, हिमांशु राठौड़ एवं प्रवीण मौर्य थाना पुरानी बस्ती की महत्वूपर्ण भूमिंका रहीं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button