क्राइमछत्तीसगढ़राजधानीसमाचार

रायपुर क्राइम – सूने मकान में नकबजनी करने वाला आरोपी अमनदीप सिंह गिरफ्तार

थाना गोलबाजार क्षेत्रांतर्गत लाल गंगा शाॅपिंग माॅल के पीछे स्थित सूने मकान में दिया था नकबजनी की घटना को अंजाम

 

रायपुर। प्रार्थिया अल्विना अहमद ने थाना गोलबाजार में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह अस्पताल वार्ड लाल गंगा शापिंग माल के पीछे रहती है तथा बैंगलौर स्थित गूगल कंपनी मे मैनेजर है। दिनांक 03.06.2021 के शाम करीबन 07.00 बजे प्रार्थिया अपने घर के पिछले दरवाजे में ताला बंद कर अपने नानी के घर बैरन बाजार गई थी कि दिनांक 04.06.2021 के रात्रि 11.30 बजे वापस अपने घर आकर देखी कि पिछले दरवाजे में लगी कुण्डी टुटी थी, घर के अंदर की सभी लाइट जल रही थी। पूरे घर का सामान अस्त व्यस्त फैला था, आलमारियां खुली थी, सामान चेक की तो जेवर तीन नग सोने की अंगूठी जिसमें से एक में डायमण्ड लगा है, एक नग प्लेटेनियम की अंगूठी नीले रंग की एवं एक सोने की चैन नहीं था। कोई अज्ञात चोर प्रार्थिया के घर के पीछे की बाउंड्रीवाल को फांदकर घर के पिछले दरवाजे के कुण्डी को तोड़कर घर अंदर प्रवेश कर उक्त जेवरात को चोरी कर ले गया। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना गोलबाजार में अपराध क्रमांक 43/21 धारा 457, 380 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
नकबजनी की घटना को पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली श्री आंजनेय वाश्णेय (भा.पु.से.) एवं थाना प्रभारी गोलबाजार श्री के.के.वाजपेयी को अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना गोलबाजार की संयुक्त टीम द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया जाकर घटना के संबंध में प्रार्थिया से विस्तृत पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करने के साथ ही अज्ञात आरोपी की पतासाजी के संबंध में मुखबीर भी लगाये गये। अज्ञात आरोपी के संबंध में तकनीकी विश्लेषण करने के साथ ही चोरी/नकबजनी के पुराने व हाल ही में जेल से रिहा हुए आरोपियों के संबंध में भी तस्दीक कर उनकी गतिविधियांे पर सतत् निगाह रखीं जा रही थी। इसी दौरान टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि दिनांक घटना को आमानाका निवासी अमनदीप सिंह, जो कि पूर्व में थाना कोतवाली से चोरी के प्रकरण में जेल निरूद्ध रह चुका है, को घटना स्थल के आसपास संदिग्ध अवस्था में देखा गया था। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा अमनदीप सिंह की पतासाजी कर पकड़कर थाना गोलबाजार लाकर नकबजनी की घटना के संबंध में पूछताछ किया गया परंतु अमनदीप सिंह द्वारा स्वयं को किसी भी प्रकार से अपराध में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर लगातार गुमराह करने के साथ ही वह प्रत्येक बार विरोधाभास बयान देता था। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर अमनदीप सिंह ज्यादा देर अपने झूठ के सामने टिक न सका और अंततः नकबजनी की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार करने के साथ ही आरोपी द्वारा बताया कि वह पंजाब भागने की फिराक में था। आरोपी की निशानदेही पर उसके कब्जे से चोरी की सोने एवं डायमण्ड के जेवरात जुमला कीमती लगभग 5,00,000/- रूपये जप्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर उसके विरूद्ध थाना गोलबाजार में अग्रिम कार्यवाही किया गया।

गिरफ्तार आरोपी – अमनदीप सिंह पिता मनजीत सिंह उम्र 20 साल निवासी आर डी ए कॉलोनी सरोना चैक थाना आमानाका रायपुर।

आरोपी को गिरफ्तार करने एवं मशरूका बरामद करने में सायबर सेल से प्र.आर. संतोष सिंह, जमील खान, कुलदीप द्विवेदी, आर. अनुप मिश्रा, संतोष सिन्हा तथा थाना गोलबाजार से आर. अमित कुमार एवं जसवंत शर्मा की महत्वपूर्ण भूमिका रहीं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button