छत्तीसगढ़राजधानीसमाचार

ईद-उल-जुहा का पर्व मनाने अपर कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई शांति समिति की बैठक

रायपुर। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, श्री एन. आर साहू की अध्यक्षता में आज कलेक्टोरेट परिसर स्थित सभाकक्ष में 21 जुलाई को ईद-उल-जुहा (बकरीद) का पर्व शांतिपूर्वक एवं सुरक्षित रूप से मनाये जाने के संबंध में शांति समिति के बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस एवं जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं मुस्लिम समाज के गणमान्य नागरिकगण सम्मिलित हुए।

बैठक में उपस्थित समाज के प्रमुखों द्वारा एकमत से सहमति व्यक्त किया गया कि नोवल कोरोना वायरस के नये वेरियंट व संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए केन्द्र शासन एवं राज्य शासन द्वारा जारी एस.ओ.पी. का पालन अनिवार्य किया जाएगा।
अपर कलेक्टर श्री साहू ने बताया कि वर्तमान में रायपुर जिले में धारा 144 प्रभावशील है। केन्द्र शासन-राज्य शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा कोविड-19 के नियंत्रण हेतु समय-समय पर जो दिशा निर्देश जारी किये गये है, त्योहार के दौरान उनका पूर्णतया पालन किया जाना है। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा 25 जून से रायपुर जिले में पूजा स्थल/धार्मिक स्थल संचालन हेतु विभिन्न शर्तो के अधीन अनुमति प्रदान की गई है, उसका भी पूर्ण रूपेण पालन किया जाना अनिवार्य है।
बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए व्यक्ति अपने-अपने घर पर ही रहकर ईद की नमाज अदा करेगें, यदि आवश्यक हो तो मस्जिदों के प्रवेश द्वार पर सेनिटाईजर एवं थर्मल स्कीनिंग की व्यवस्था की जाएंगी एवं नमाज के दौरान सोशल डिस्टॅशिंग का पालन किया जाएगा। मस्जिद परिसर में मास्क सहित कम से कम व्यक्तियों को प्रवेश दिया जावेगा, जिससे परिसर में एक साथ भीड इकट्ठा न किया जावे। आंगतुकांे हेतु अलग-अलग स्लॉट अनुसार जूते/चप्पल रखने की व्यवस्था की जावे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button