खास खबरराजनीतिसमाचार

मेडिकल शिक्षा में क्रांतिकारी बदलावों के लिए मोदी जी का आभार : प्रदेश भाजपा*

 

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय ने मोदी कैबिनेट के फैसले का स्वागत करते हुए मेडिकल और डेंटल कॉलेज के एडमिशन में 27 प्रतिशत अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के निर्णय को युग प्रवर्तक और ऐतिहासिक निर्णय बताया है। उन्होंने कहा कि इन वर्गों से आने वालो छात्रों को इससे बड़ा लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस फैसले से पिछड़े और गरीब छात्रों को हर साल मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में ऑल इंडिया कोटे से प्रवेश पा सकेंगे और उच्च गुणवत्ता वाले केन्द्रीय शिक्षण संस्थान में शिक्षा हासिल कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार लगातार अपने वादे सबका साथ-सबका विकास व सबका विश्वास पर कार्य कर रही है। जिसका उदाहरण मोदी कैबिनेट का यह निर्णय है। श्री साय ने इस फैसले के लिए मोदी जी के प्रति हार्दिक धन्यवाद दिया है।

श्री साय ने कहा कि ‘नयी शिक्षा नीति’ के एक वर्ष पूरे होने पर मोदी जी ने अनेक नवाचारी और समयानुकूल प्रासंगिक योजनायें शुरू की हैं. हिन्दी समेत अन्य भारतीय भाषाओं में इंजीनियरिंग शिक्षा देने का निर्णय हिन्दी एवं भारतीय भाषी युवाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं होगा। उन्होंने कहा कि निजी स्कूलों में प्ले स्कूल की तर्ज़ पर देश भर में नौनिहालों के लिए विद्या प्रवेश योजना समेत अन्य सभी फैसलों से नया और आधुनिक भारत, युवाओं के स्वर्णिम भविष्य वाले भारत की नींव पड़ेगी।

राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने मेडिकल एजुकेशन के क्षेत्र में ऐतिहासिक निर्णय लेकर ऑल इंडिया कोटे के तहत अंडरग्रेजुएट/पोस्ट ग्रेजुएट, मेडिकल तथा डेंटल शिक्षा में अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों को 27 प्रतिशत व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान करने पर पीएम श्री नरेंद्र मोदी जी का हार्दिक आभार माना। उन्होंने कहा कि इस निर्णय से मेडिकल तथा डेंटल शिक्षा में प्रवेश के लिए अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आने वाले छात्र लाभान्वित होंगे। देश में पिछड़े तथा कमजोर आय वर्ग के उत्थान के लिए उन्हें आरक्षण देने को सरकार प्रतिबद्ध है।

भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश सोनी ने मेडिकल एवं डेंटल की पढ़ाई में अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों 10 प्रतिशत को आरक्षण देने के लिए आभार माना। श्री सोनी ने कहा कि 1986 से कांग्रेस ने इसे लटका कर रखा हुआ था. कांग्रेस पिछड़े-गरीब वर्गों से जुड़े इस विषय पर लगातार राजनीति करती रही थी। वह हमेशा इस वर्ग की भावना से खिलवाड़ करती रही जिसके कारण कांग्रेस को शर्मिन्दा होना चाहिए। सोनी ने कहा कि इस बड़े फैसले से अब हमारे हजारों युवाओं को हर साल बेहतर अवसर प्राप्त करने और देश में सामाजिक न्याय का एक नया प्रतिमान बनाने में मदद मिलेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button