क्षेत्रीयखास खबरछत्तीसगढ़समाचार

लंबे अरसे के बाद धरसीवां को मिला पूर्ण तहसील के दर्जा, विधायक के प्रयासों से मिली ग्रामीणों को राहत

विधायक शर्मा ने मुख्यमंत्री के प्रति किया आभार प्रकट

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगभग बीस किलो मीटर की दूरी पर स्थित उप-तहसील धरसीवां को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्ण तहसील के दर्जा दे दिया है ज्ञात हो कि क्षेत्रीय विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा के द्वारा पथरी में छत्तीसगढ़ के प्रथम स्वप्न दृष्ट डॉ खूबचंद बघेल जी की जयंती पर माननीय मुख्यमंत्री जी से मांग की थी व लगातार प्रयासों से मिली इस सौगात से अब ग्रामीणो को राजधानी रायपुर की भागादौड़ी से निजात मिलेगी।
जानकारी के मुताबिक धरसीवां प्रदेश का एकमात्र क्षेत्र है जहां से सर्वाधिक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी हुए हैं जिन्होंने स्वाधीनता की जंग में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और भारतवर्ष को अंग्रेजो की गुलामी से आजाद कराया प्रथक छत्तीसगढ़ राज्य के प्रथम स्वप्न दृष्टा स्वाधीनता सैनानी डॉ खूबचन्द बघेल की जन्म एवं कर्मभूमि पथरी गांव भी धरसीवां में ही है इतना ही नही देश की सबसे बड़ी स्पंज आयरन उधोग मंडी में शुमार रखने वाला ओधोगिक क्षेत्र सिलतरा भी धरसीवां में ही है बाबजूद इसके इस क्षेत्र के लोगो को हर छोटे बड़े सरकारी कामों के लिए सीधे रायपुर की भागदौड़ करना पड़ती है यह पूर्ण तहसील का दर्जा न होने से भी ग्रामीण लोगो को बहुत परेशानिया झेलना पड़ती थी इसी को देखते हुए धरसीवां विधाययक श्रीमती अनिता योगेंद्र शर्मा लगातार क्षेत्र के साथ शासन स्तर पर सक्रिय रहकर अपने क्षेत्र की प्रमुख समस्याओं के निदान में लगी रहती है और अंततः पूर्ण तहसील के दर्जा धरसीवां को दिलाने में उन्हें कामयाबी मिली।
धरसीवां को पूर्ण तहसील के दर्जा मिलने से क्षेत्र के लोगो मे खुशी का माहौल है और उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व क्षेत्रीय विधायक का इसके लिए आभार व्यक्त किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button