क्राइमदेश-दुनियासमाचार

माँ के प्रेमी को सबक सिखाने बेटी ने बॉयफ्रेंड संग मिलकर किया ये कांड

पुणे से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसमें एक 21 साल की लड़की को अपनी मां के प्रेमसंबंधों के बारे में पता चला। मां के प्रेमी को सबक सिखाने के लिए इस लड़की ने अपनी मां के वाट्सअप अकाउंट को हैक किया।
उसमें उसे उनके और उस व्यक्ति के बीच के अंतरंग संबंधों की तस्वीरें मिलीं। फिर इस लड़की ने इस बारे में अपने प्रेमी को बताया। इन दोनों ने मिलकर मां के प्रेमी को ब्लैकमेल कर के उससे फिरौती वसूलने की साजिश रची। महिला के प्रेमी से 15 लाख की रकम की मांग की गई वरना ये तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी दी गई. लेकिन पुलिस ने ब्लैकमेल करने वाले इस मम्मी की बबली और उसके बंटी को धर दबोचा है।
मामू बनकर घर में एंट्री लेने वाले मम्मी के 42 साल के प्रेमी ने पुणे के विश्रामबाग पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई थी. शिकायतकर्ता का बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन से जुड़े सामानों को बेचने का धंधा है. उनकी दुकान में मई महीने में दो अनजाने लोग आए. उन्होंने पहले कंस्ट्रक्शन से जुड़े सामानों के बारे में बात की, इसके बाद अचानक गाली-गलौज पर उतर आए. वे कहने लगे कि, ‘तुम्हारा एक महिला से संबंध है. हमारे पास उससे जुड़ी तस्वीरे हैं.’ इसके बाद वे दोनों उन्हें कार में बिठा कर अलंकार पुलिस चौकी के पास ले गए. कार में मारपीट की और मोबाइल भी छीन लिया. मोबाइल में कुछ वीडियोज और फोटोज थे. उन्होंने वे भी निकाल लिए और उन्हें सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी दने लगे. इसके बाद उन्होंने 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी. हर महीने एक लाख और आठ महीने में सारे पैसे चुकाने की धमकी दी.
शिकायतकर्ता ने बदनामी से बचने के लिए 2 लाख 60 हजार तक की रकम अदा की. लेकिन इससे ज्यादा ना होने की वजह से उन्होंने पुलिस स्टेशन जाकर शिकायत दर्ज करवा दी. पुलिस ने ब्लैकमेलर को पकड़ने के लिए जाल बिछाया. उन्होंने शिकायतकर्ता से कहा कि वे उसे पैसे देने के बहाने दगड़ू सेठ गणपति मंदिर के पास बुलाएं. प्लानिंग के मुताबिक 29 वर्षीय आरोपी मिथुन गायकवाड जैसे ही पैसे लेने पहुंचा, पुलिस ने पैसे लेते हुए उसे रंगे हाथ पकड़ लिया. आरोपी ने अपना गुनाह कबूल लिया. लेकिन पूछताछ में उसने बताया कि इस साजिश में उसकी प्रेमिका भी शामिल है जो शिकायतकर्ता की प्रेमिका की बेटी है. पुलिस ने इस मामले में फिर संबंधित लड़की को भी पकड़ लिया. इधर शिकायतकर्ता ने पहले फिरौती की रकम देने के लिए अपनी कार बेच दी, बुलेट बेच दिया. लेकिन जब ऐसा लगा कि वो और अधिक नहीं दे पाएंगे तो उन्होंने पुलिस के पास जाना ही बेहतर समझा. दूसरी तरफ आरोपी ने फिरौती की रकम से अपने ऊपर चढ़ा हुआ कर्ज चुका दिया. आरोपी नंबर दो यानी संबंधित महिला की बेटी ने फिरौती की रकम से ढेर सारे कपड़े खरीदे. पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button