खास खबरछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ सरकारसमाचार

मुख्यमंत्री की ऋण माफी की घोषणा ने महिलाओं का बढ़ाया हौसला

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा महिला समूहों के ऋण माफ किये जाने की घोषणा से  महिलाओं में खुशी की लहर है । बलौदाबाजार भाटापारा जिले में 43 लाख रूपये से ज्यादा का ऋण माफ किया जायेगा। इससे 146 महिला समूहों से जुड़ी लगभग डेढ़ हजार महिलाओं को फायदा मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने पिछले दिनों महिलाओं के सम्मान के लिए आयोजित तीज महोत्सव में ऋण माफी की घोषणा की है। उन्होंने इसके साथ ही महिला कोष से दिये जाने  वाले ऋण की अधिकतम सीमा भी 1 लाख रूपये से बढ़ाकर 2 लाख रूपये कर दी है। ऋण माफ की खबर पाकर महिलाओं में खुशी की लहर दौड़ गई है और महिलाओं ने उन्हें धन्यवाद दिया है।
उल्लेखनीय है कि महिलाओं को छोटे-छोटे काम धंधे के लिए मात्र 3 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराया जाता है। यह ऋण उन्हें महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ महिला कोष से स्वीकृत किया जाता है। बलौदाबाजार जिले में 20 हजार रूपये से लेकर एक लाख रूपये तक ऋण दिये गये हैं। उन्हें मुख्य रूप से आपसी लेन-देन, दुकान संचालन, रेडीटू ईट, दोना पत्तल निर्माण, फल एवं सब्जी दुकान, ठेला आदि लघु व्यवसाय के लिए ऋण दिए गए हैं। बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के कसडोल विकासखण्ड के ग्राम सेमरिया की महिला स्व सहायता समूह की अध्यक्ष श्रीमती भगवती ने कहा कि अचार-पापड़ निर्माण के लिए उनके समूह को दो किश्तों में 1 लाख रूपये का ऋण मिला था। उनका काम-काज अच्छा चल रहा था। लेकिन कोरोना के कारण उनका काम-काज प्रभावित हुआ है। उन्होंने लगभग 60 हजार रूपये का ऋण चुकता कर दिए हैं। लगभग 40 हजार रूपये बचा है। ऋण माफी की खबर पाकर समूह की महिलाएं काफी खुश है। कोरोना संकट के कारण उनका धंधा चौपट हो गया। इसलिए ऋण नहीं चुका पाए। मुख्यमंत्री ने ऋण माफ कर हमें काम-धंधा फिर से शुरू करने का हौसला दिया है।  महिलाओं को आर्थिक और सामाजिक रूप से आगे बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा किये जा रहे प्रयासों की उन्होंने सराहना की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button