छत्तीसगढ़समाचार

अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संगठनो के प्रमुख कर रहे प्रदेश के मुख्यमंत्री से पत्राचार – अनियमित कर्मचारी महासंघ

रायपुर। छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय नेतृत्व के आह्वाहन पर 7 चरण के आंदोलन के पाँचवे चरण को साकार स्वरूप देने के लिए सक्रिय एवं जुझारू सदस्य अब लगातार प्रदेश के विभिन्न क्षेत्र के अग्रणी जन प्रतिनिधियों, सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं के प्रमुखों की ओर रुख कर अपने नियमितीकरण के मंजिल को हासिल करने, रास्ता बनाने का कार्य आरंभ कर दिया है।

विगत माह में प्रदेश के लोकसभा एवं राज्य सभा सांसदों को ज्ञापन देकर प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण किये जाने का अनुशंसा पत्र जारी करवाया जा चुका है, इसमे प्रमुख रूप से सांसद द्वय सुनील कुमार सोनी एवं मोहन मंडावी ने सबसे पहले अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण किये जाने की मांगों को पूर्ण करने के लिए सीएम के पास अनुशंसा सहित अनुरोध पत्र भेजा है।

वर्तमान स्थिति में जहां अनियमित कर्मचारी लगातार मानसिक एवं शारीरिक शोषण झेल रहे है, महासंघ लगातार अनियमित कर्मचारियों को एकजुट करने एवं आगामी आंदोलन के सातवें एवं अंतिम चरण को प्रतिबद्धता और पूरे विश्वास के साथ अंजाम तक पहुंचाने का कार्य कर रहा है, यह वक्तव्य प्रदेश अध्यक्ष रवि गढ़पाले ने दिया। वही प्रदेश के वरिष्ठ कार्यसमिति सदस्य एवं पूर्व संयोजक का कहना कि वे लगातार विभिन्न सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों से वार्ता कर रहे है और उन्हें अनियमित नौकरी की कुरीति से परिचित भी करवा रहे है। इस अनियमित नौकरी के कुरीति के कारण लाखों अनियमित कर्मचारियों ने अपने जीवन के स्वर्णिमकाल को प्रदेश के उन्नत्ति के नाम समर्पित कर दिया परंतु उन्हें बदले में न्याय तक नही मिल रहा है। उन्होंने इसी में आगे जोड़ते हुए कहा कि, प्रदेश सतनामी सामाज छत्तीसगढ़ के युवा प्रकोष्ठ के कार्यकारी अध्य्क्ष डॉ रमेश कुमार मनहर से वार्ता किया गया एवं नियमितीकरण हेतु सामाजिक हस्तक्षेप करने के लिए ज्ञापन देते हुए निवेदन किया गया। डॉ रमेश कुमार मनहर ने महासंघ के वरिष्ठ सदस्य गोपाल साहू के ज्ञापन पत्र को मुख्यमंत्री के पास मूलतः संलग्न कर अनुशंसा पत्र जारी किया एवं नियमितीकरण किये जाने निवेदन भी किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button