छत्तीसगढ़राजधानीसमाचार

शासकीय अभियांत्रिकी महाविद्यालय रायपुर में सात दिवसीय इंडक्शन प्रोग्राम का शुभारंभ

रायपुर। शासकीय अभियांत्रिकी महाविद्यालय रायपुर, जो कि तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी रहा है, वहाँ दिनाँक 24/11/2021 से नवप्रवेशित छात्र-छात्राओं के लिए सात दिवसीय इंडक्शन प्रोग्राम का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के तैलचित्र पर पुष्पांजलि देकर एवं दीप प्रज्ज्वलित कर मुख्य अतिथि श्री जी. आर. साहू, सीनियर प्रो., सिविल विभाग, डॉ. विकास कुमार जैन, विभागाध्यक्ष, और समन्यवक, इंडक्शन प्रोग्राम, डॉ. शैलेशधर दीवान, एसो. प्रो. गणित विभाग, डॉ. अवनीश कुमार उपाध्याय, एसो. प्रो., भौतिकी विभाग, आदि के द्वारा किया गया।

तदुपरांत, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री जी. आर. साहू, सीनियर प्रो., सिविल विभाग ने अपने उद्बोधन में नवप्रवेशित छात्र-छात्राओं का स्वागत करते हुए उन्हें, महाविद्यालय के नियमों, परीक्षा संबंधित उपयोगी जानकारी आदि देने के साथ उनको नैतिक और सामाजिक जीवन और ज़िम्मेदारी के लिए अपने आपको तैयार करने के निर्देश भी दिए। तत्पश्चात, कार्यक्रम के द्वितीय चरण में महाविद्यालय में संचालित सभी विभागों द्वारा अपने-अपने विभागों की जानकारी देते हुए अब तक की सारी उपलब्धियों को साझा कर नवागन्तुकों का हौसला बढ़ाया । कार्यक्रम के तृतीय चरण में, इस सात दिवसीय प्रोग्राम हेतु तय किये आगामी कार्यक्रमों से छात्रों को अवगत कराया गया | विदित हो कि, सभी नवप्रवेषित छात्रों के बहुमुखी और चहुमुखी विकास का पावन उद्देश्य लिए हुए आयोजित इस कार्यक्रम में वैल्यू एजुकेशन, पर्सनालिटी डेवलपमेंट, योगा, कम्युनिकेशन स्किल्स, स्ट्रेस मैनेजमेंट, ह्यूमन वैल्यूज जैसे अत्यावश्यक विषयों पर विषय-विशेषज्ञों द्वारा व्याख्यान देकर चेतना और ज्ञान चक्षु खोलने का मार्ग प्रशस्त किये जाने का संकल्प लिए जायेगा।

कार्यक्रम के समन्वयक और बेसिक साइंस विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. विकास कुमार जैन ने अपने वक्तव्य में छात्रों का अभिन्दन करते हुए कहा कि, लगन, धैर्य, आत्मविश्वास और निरंतरता, ये चार अच्छे दोस्त बना लें आप, सफलता के पर्वत पर शीर्ष में होंगे | उन्होंने आगे कहा कि, कोर्स के दौरान और भविष्य में भी हम आपको अपने क्षेत्र में अनुपम और अच्छे से बेहतर व्यक्तित्व बनाने के लिए हमेशा उपलब्ध और प्रयत्नशील रहेंगे। कार्यक्रम को सफल बनाने मे संस्था के NSS Volunteers का विशेष योगदान रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button