CG Crime : 14 साल की नाबालिग लड़की के साथ सोशल मीडिया में हुई दोस्ती, फिर मिलने के लिए लड़के ने डाला दबाव, और मिलते ही दो दरिंदे बनाया हवस का शिकार

89
17 साल के लड़के ने ढाई साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार, ईंट से लहूलुहान कर भागा आरोपी
17 साल के लड़के ने ढाई साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार, ईंट से लहूलुहान कर भागा आरोपी

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। CG Crime : जिले से बड़ी खबर सामने आई हैं। यहाँ दो दरिंदों ने मिलकर एक 14 साल की नाबालिग लड़की को अपने हवस का शिकार बनाया हैं। बताया जा रहा है कि पीड़ित लड़की का सोशल मीडिया के जरिये आरोपी युवक से दोस्ती हुई थी। जिसके बाद आरोपी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर नाबालिग के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया। नाबालिग के साथ हुए हैवानियत के बाद लड़की के बेहोश होने पर आरोपी मौके से फरार हो गये थे। पीड़ित लड़की की शिकायत के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Read More : CG Crime : माँ-बाप ने बेटे को सुला दी मौत की नींद, पहले करंट लगाया, फिर वायर से गला घोंटकर उतारा मौत के घाट, पढ़े सनसनीखेज खबर…

जानकारी के मुताबिक नाबालिक के साथ रेप की ये घटना पेंड्रा थाना क्षेत्र की है। बताया जा रहा है कि ग्राम लटकोनी खुर्द का रहने वाले युवक विवेक पोर्ते ने सोशल मीडिया के जरिए मरवाही थाना क्षेत्र की नाबालिग लड़की से दोस्ती कर ली थी। 15 दिन पहले हुई दोस्ती के बाद आरोपी लड़की पर लगातार मिलने के लिए दबाव बना रहा था। आरोपी विवेक पोर्ते के झांसे में आकर लड़की उसके साथ घुमने जाने के लिए तैयार हो गयी।

बताया जा रहा है कि दोनों बाइक में सवार होकर घूमने के लिए रवाना हुए थे। इस दौरान रास्ते में आरोपी विवेक का दूसरा साथी देवन सिंह आयाम मिला। वह भी दोनों के साथ मोटरसाइकिल में सवार हो गया और पेण्ड्रा-मरवाही मुख्यमार्ग पर स्थित कोदवाही गांव में सूने पोल्ट्री फार्म में ले लड़की को लेकर पहुंचा। जहां आरोपी ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। आरोप है कि इस घटना के बाद लड़की के बेहोश हो गयी, तो आरोपियों ने नाबालिग को वहीं छोड़कर मौके से भाग गए। नाबालिग को जब होश आया तब उसने मदद के लिए शोर मचाया।

जिसके बाद आसपास के लोग वहां पहुंचे और बच्ची को पोल्ट्री फार्म से बाहर निकाला गया। घटना के बाद नाबालिग को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका इलाज जारी है। वहीं घटना के बाद दोनों आरोपी भागने की फिराक में थे। पुलिस को सूचना मिलते ही बच्ची और परिजनों के बयान के आधार पर दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।