क्या आप जानते हैं भारत देश के वाहनों की नंबर प्लेट के रंग में छिपा होता है बड़ा राज

285
क्या आप जानते हैं भारत देश के वाहनों की नंबर प्लेट के रंग में छिपा होता है बड़ा राज,
क्या आप जानते हैं भारत देश के वाहनों की नंबर प्लेट के रंग में छिपा होता है बड़ा राज,

New Delhi:– क्या आपने कभी जानने की कोशिश की है कि भारत देश में हजारों वाहन रोजाना सड़कों पर उतरते हैं। लेकिन कई वाहनों पर अलग-अलग colors की नंबर प्लेट होती हैं। इन plates के रंग और नंबर का क्या मतलब होता है। इनमें से अगर आपको भी नहीं पता है तो इस खबर में हम आपको इससे जुड़ी पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

white number plate

नॉर्मल पेट्रोल और डीजल की प्राइवेट कारों को परिवहन विभाग की ओर से वाइट नंबर प्लेट जारी की जाती हैं जिनपर काले रंग से नंबर लिखे होते हैं। ऐसी नंबर प्लेट वाली गाड़ियों, बाइक और स्कूटर का उपयोग सिर्फ निजी कामों के लिए किया जाता है।

yellow number plate

पीली नंबर प्लेट के वाहनों को भी सड़कों पर अक्सर देखा जाता है। इस रंग की प्लेट ज्यादातर ऑटो रिक्शा, टैक्सी, ट्रक, बसों, जेसीबी जैसे वाहनों पर किया जाता है। इसका मतलब ये होता है कि इस नंबर प्लेट वाले वाहनों का उपयोग व्यवसायिक तौर पर होता है। इनका निजी उपयोग नहीं होता और पीली नंबर प्लेट वाले वाहनों को चलाने के लिए ड्राइवर के पास वैध कर्मशियल ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए।

black number plate

इस रंग की नंबर प्लेट वाले वाहन कम देखने को मिलते हैं। इनका भी कर्मशियल वाहनों के जैसे ही उपयोग होता है लेकिन ऐसी नंबर प्लेट के वाहन को चलाने के लिए कर्मशियल ड्राइविंग लाइसेंस की जरूरत नहीं होती। इस तरह की नंबर प्लेट वाली गाड़ियां ज्यादातर लग्जरी होटल ट्रांसपोर्ट वाले वाहनों पर देखी जाती हैं।

green number plate

टोटल लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करने पर निगम जोन 9 ने गणपति प्रोविजन पर 5000 रूपये जुर्माना कर दुकान बंद करवाई

हरे रंग की नंबर प्लेट का चलन ज्यादा पुराना नहीं है। सरकार की ओर से इस रंग की नंबर प्लेट को इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए रिजर्व रखा जाता है। देश में रजिस्टर्ड सभी इलेक्ट्रिक वाहनों पर सिर्फ हरे रंग की नंबर प्लेट ही लगाई जाती है। निजी और कर्मशियल इलेक्ट्रिक वाहनों पर भी हरे रंग की ही नंबर प्लेट लगाई जाती है लेकिन निजी इलेक्ट्रिक वाहनों की प्लेट पर सफेद रंग के नंबर जारी किये जाते हैं जबकि कर्मशियल इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए हरे रंग की नंबर प्लेट पर पीले रंग के नंबर जारी होते हैं।

arrow number plate

तीर के निशान के साथ लगाई जाने वाली नंबर प्लेट सिर्फ सेना से जुड़े वाहनों में लगाए जाते हैं। रक्षा से जुड़े वाहनों की नंबर प्लेट पर तीर का निशान ऊपर की ओर इशारा करते हुए होती है। ऐसी नंबर प्लेट वाले वाहनों को देश में किसी भी टोल पर पेमेंट नहीं करनी होती।

red number plate

इस रंग की नंबर प्लेट को सिर्फ नए वाहनों के लिए जारी किया जाता है। इसपर अस्थायी नंबर दिया जाता है और वाहन खरीदने के बाद जबतक आपको अथारिटी से परमानेंट नंबर नहीं मिलता तब तक आपके वाहन पर लाल रंग की नंबर प्लेट लगाई जाती है।

blue number plate

देश-विदेश में कई वाहनों पर नीले रंग की नंबर प्लेट भी लगी होती है इसके साथ ही इन पर नंबर भी अलग तरह से जारी किये जाते हैं। इस रंग की नंबर प्लेट को सिर्फ दूसरे देशों में रहने वाले राजनयिकों के वाहनों पर लगाया जाता है। इस रंग की नंबर प्लेट में 10 सीसी 50 या इसी तरह के नंबर होते हैं जिनमें सीसी का मतलब कांसुलर कोर होता है। यून नंबर के साथ आने पर इनका मतलब यूनाइटेड नेशंस होता है और डीसी के साथ आने वाली नंबर प्लेट का मतलब डिप्लोमैटिक कॉर्प्स होता है। इन नंबर प्लेट पर किसी भी देश में वहां के राज्य के कोड नहीं होते बल्कि जिस देश के राजनयिक को ये जारी की जाती है उसके देश के कोड इस पर लगाए जाते हैं।

चंद मिनटों में बस ने रौंदा लोगों को, देखें मौत का LIVE वीडियो