पाइल्स के मरीज इन चीजों से करें परहेज

410
.

पाइल्स या बवासीर एक ऐसी समस्या है, जो खराब खानपान के कारण होती है। इस समस्या से ज्यादातर लोग जूझ रहे हैं। इस बीमारी का सबसे बड़ा कारण कब्ज है। पाइल्स दो तरह का होता है, खूनी और बादी। अगर इसका इलाज ना किया जाए तो समस्या काफी गंभीर हो सकती हैं। शुरुआती बीमारी में ही अगर खानपान का ध्यान रखा जाए तो इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। यहां जानिए बवासीर के मरीजों को किन-किन चीजों से परहेज करना चाहिए।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

– स्मोकिंग करने से शरीर के अंदर पाई जाने वाली गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल दीवार पर प्रभाव पड़ता है। सिगरेट पीने वाले व्यक्ति का पाचन कमजोर होता है। ऐसे में अगर किसी को बवासीर की समस्या है तो स्मोकिंग बहुत नुकसानदायक हो सकती है।

– पाइल्स से पीड़ित है तो प्रोटीन वाले खाने को डायट में शामिल ना करें। खासकर, एनिमल प्रोटीन से बचें, इससे ज्यादा समस्याएं हो सकती हैं। क्योंकि प्रोटीन ठीक से नहीं पच पाता है जिसके कारण कब्ज और मलाशय में जलन होती है।

-पाइल्स की समस्या में कॉफी और चाय पीने से बचना चाहिए। दरअसल, चाय और कॉफी में कैफीन ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। कैफीन शरीर को डिहाइड्रेट करता है, जिससे पाइल्स की समस्या बढ़ सकती है।

– बहुत ज्यादा लाल मिर्ची या मसाले वाला खाना खाने से पाइल्स रोगियों से परहेज करना चाहिए। इससे पाचन खराब होता है। जिससे मल त्याग ने के दौरान जलन और दर्द होता है। खाने में तेज मसाले पाइल्स की समस्या को बढ़ा सकते हैं।

– पाइल्स की समस्या से जूझ रहे व्यक्ति को बेकरी के खाने से बचना चाहिए। बेकरी फूड्स में अंडे की भरपूर मात्रा होती है। जिससे कब्ज हो सकती है और बवासीर का खतरा बढ़ सकता है।

स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल ने दिए निर्देश, डांक्टरों के लिखे बिना दर्द निवारक दवाओं की बिक्री पर होगी कार्रवाई