छत्तीसगढ़ में धान खरीदी का लक्ष्य पहले ही हो चुका है पूरा : राज्य में अब 4 फरवरी तक होगी समर्थन मूल्य पर धान खरीदी

108

शनिवार एवं रविवार को भी किसान अपना धान बेच सकेंगे
राज्य में 144.38 लाख मीट्रिक टन धान की रिकार्ड खरीदी

रायपुर, मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने राज्य के किसानों के हित में एक बड़ा फैसला लेते हुए समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की अवधि 4 फरवरी तक बढ़ा दी है।
मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने कहा है कि धान बेचने से शेष रह गये किसान अब  आसानी से अपना धान बेच सकेंगे। शनिवार 03 फरवरी एवं रविवार 04 फरवरी को भी उपार्जन केन्द्रों में धान की खरीदी सामान्य दिनों की तरह बेच सकते है।
छत्तीसगढ़ में दिनों दिन धान खरीदी का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। लक्ष्य पहले ही पूरा हो चुका है। राज्य सरकार द्वारा अब तक किसानों से 144.38 लाख मीट्रिक टन धान की समर्थन मूल्य पर रिकार्ड खरीदी की जा चुकी है। धान उपार्जन के एवज में किसानों को 30 हजार 68 करोड़ रूपए से अधिक की राशि का भुगतान बैंक के माध्यम से किया गया है।
मार्कफेड के महाप्रबंधक से प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य में समर्थन मूल्य पर अब तक 24 लाख 68 हजार 314 किसानों से 02 फरवरी 2024 तक 144 लाख 38 हजार 552 मीट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है। धान खरीदी के साथ-साथ कस्टम मिलिंग के लिए निरंतर धान का उठाव जारी है। अब तक 104 लाख 16 हजार 117 मीट्रिक टन धान के उठाव के लिए डीओ जारी किया गया है, जिसके विरूद्ध मिलर्स द्वारा 95 लाख 83 हजार 718 मीट्रिक टन धान का उठाव किया जा चुका है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
महादेव सट्टा एप मामले में बीजेपी विधायक राजेश मूणत का बयान, कहा – भाजपा ने ईडी को सौंपा दस्तावेज, सट्टा एप मामले में जांच की मांग की