इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश, मौसम विभाग ने दी जानकारी …

124

नई दिल्ली. देश के ज्यादातर राज्यों में से ठंड की वापसी हो रही है। उत्तर भारत में दिन के समय धूप निकल रही, जिससे लोगों को राहत मिल रही। हालांकि, इस बीच वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से आज से पांच फरवरी तक यानी कि तीन दिनों तक कई राज्यों में झमाझम बारिश होने जा रही है। मौसम विभाग ने बताया है कि उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में यह बारिश होगी। इस समय पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और सब हिमालयी पश्चिम बंगाल व सिक्किम में न्यूनतम तापमान छह से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच रिकॉर्ड किया जा रहा है। आज सबसे कम तापमान हरियाणा के करनाल में 5.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मौसम विभाग ने कहा है कि जम्मू कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड में तीन और चार फरवरी को हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी होगी। पांच फरवरी को भी छिटपुट बारिश का अलर्ट है। इसके अलावा, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान में तीन और चार फरवरी को बारिश होने जा रही है। इसके अलावा, इन राज्यों में ओले भी गिरेंगे। यूपी में भी चार और पांच फरवरी को बारिश और ओले गिरने की चेतावनी जारी की गई है। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में चार फरवरी को भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट है। उत्तर पश्चिम भारत के राज्यों में तीन और चार फरवरी को 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने वाली हैं।

वहीं, ठंड और कोहरे की बात करें तो पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली में पांच और छह फरवरी को घने से बहुत घना कोहरा रहने वाला है। ओडिशा, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा में चार और पांच फरवरी को कोहरे की स्थिति रहेगी। वहीं, हिमाचल प्रदेश में तीन और चार फरवरी को कोल्ड डे का अलर्ट जारी किया गया है। ठंड को लेकर मौसम विभाग ने खुशखबरी सुनाई है कि अब यह आने वाले दिनों में और कम होगी। उत्तर पश्चिम भारत में अगले दो दिनों में न्यूनतम तापमान दो से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा होने वाला है। इसके अलावा, पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में अगले दो दिनों तक न्यूनतम तापमान में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा।

आम जनता हेतु जंगल सफारी, तेलीबांधा, बूढ़ातालाब, पुरखौती मुक्तांगन अधिकतम रात 8 बजे तक खोले जा सकेगें