वोटिंग के बीच पूर्व रमन सिंह का सीएम भूपेश बघेल पर हमला, बोले- ‘अब समझ आया वो डरते क्यों हैं’

198
वोटिंग के बीच पूर्व रमन सिंह का सीएम भूपेश बघेल पर हमला, बोले- 'अब समझ आया वो डरते क्यों हैं'
वोटिंग के बीच पूर्व रमन सिंह का सीएम भूपेश बघेल पर हमला, बोले- 'अब समझ आया वो डरते क्यों हैं'

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पहले चरण के मतदान में केवल तीन दिन बचे हैं, लेकिन चुनाव से ठीक पहले प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सीएम भूपेश बघेल को लेकर किए गए दावे के बाद प्रदेश का सियासी भूचाल आ गया है. दरअसल, ईडी का ये दावा महादेव सट्टेबाजी ऐप के मामले से जुड़ा है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आपको बता दे की भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व सीएम रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ के पहले चरण में 14 सीट जीतने का दावा ने किया है। इस पर सीएम भूपेश बघेल ने तंज कसते हुए कहा, फेंकना है तो ज्यादा फेक लेते हैं। उसकी खुद की सीट नहीं बच रही है। पिछले समय हम 17 सीट जीते थे, इस समय उससे भी ज्यादा जीतेंगे। शांतिपूर्वक मतदान हो रहे हैं। हमने ऋण माफी किया है, फिर से घोषणा किया है। 3200 रुपए धान और 200 यूनिट बिजली फ्री की घोषणा से लोग प्रभावित हैं, इसीलिए मतदान का प्रतिशत भी बढ़ेगा। फर्स्ट टाइम वोटर्स को लेकर सीएम बघेल ने कहा, फर्स्ट टाइम वोटर भी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे। हमारी सीट 18 या 19, धोखे से बीजेपी की एकात सीट आ सकती है। 15 साल मौका मिला था। आदिवासियों की जमीन छीनकर उद्योगपतियों को दे दिया। आदिवासियों को नक्सलाइट बताकर जेल के अंदर ठूस दिया, एनकाउंटर कर मार दिए। यह बात आदिवासी भूले नहीं हैं। हमारे कार्यकाल में आदिवासी निश्चिंत होकर घूम रहे हैं। नक्सली सिमट गए हैं। इनके राज में नक्सलियों का राज था। अब बस्तर भी शांति की ओर लौट रहा है।

नक्सली हमले को लेकर सीएम भूपेश बघेल ने कहा, पहले ज्यादा हमले होते थे, अभी कम हुआ है यह भी नहीं होना चाहिए। छूट मूट घटना से मतदान में फर्क नहीं पड़ेगा। अंदरूनी की इलाकों में पहली बार मतदान केंद्र बनने को लेकर सीएम ने कहा, निर्वाचन आयोग में अंदरूनी क्षेत्र में मतदान केंद्र बनाया है। यह सबसे बड़ा प्रमाण है कि हमने बस्तर में शांति बहाली की। उद्धव ठाकरे के बीजेपी पर तंज को लेकर भूपेश बघेल ने कहा, जो भजापा में शामिल होते, मोदी वाशिंग पाउडर से धुलने के बाद सब दाग साफ हो जाते हैं। रमन सिंह के भूपेश बघेल पर इस्तीफा की मांग पर सीएम ने कहा, जो पैसे के साथ पकड़ाया है उसका रमन सिंह के साथ फोटो है। जो गाड़ी है वह भाजपा नेता के हैं।

रायपुर पुलिस की लगातार जारी है चेकिंग अभियान कार्यवाही

सीएम ने कहा बढ़ी बात –

सीएम ने कहा, परसों तक कोई नहीं जानता था शुभम को, वह अचानक महादेव का मालिक बन गया। उसके पहले ईडी उसे अधिकारी बता रहे थे। ऐसा मालिक है जो अपने नौकर की शादी में ढाई सौ करोड़ रुपए खर्च करते हैं। रमन सिंह के कार्यकाल में दो अधिकारी थे वह ऐसे ही स्टोरी बनाते थे। यह पूरा प्लांटेड है। बीजेपी हार मान चुकी है, आखिरी दांव है। कहीं रमन सिंह का ही पैसा तो नहीं है। जिसके पास इतना पैसा होता है वह कोटे का चावल नहीं खाता। ऐसा तो नहीं की रमन सिंह का पैसा है। जांच करना चाहिए। ईडी ने अभी तक जांच क्यों नहीं कि वह पैसा किसका है।