खास खबरराजनीतिसमाचार

पद्मविभूषण BB लाल से मिले RSS प्रमुख

नई दिल्ली। अयोध्या राम जन्म भूमि परिसर में विवादित स्थल के नीचे मंदिर की खोज करने वाले पद्मविभूषण से सम्मानित एएसआई के पूर्व महानिदेशक बीबी लाल से संघ प्रमुख मोहन भागवत ने सोमवार को मुलाकात की। लाल से मिलने के लिए भागवत उनके आवास पहुंचे और कुशलक्षेम जानी। साथ ही उन्हें शॉल देकर सम्मानित भी किया। सन 2000 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया था।

बताया जाता है कि भागवत ने राम मंदिर पर उनकी लिखी पुस्तक के अलावा मंदिर खोज से जुड़े तथ्यों पर भी चर्चा की। साथ ही मौजूदा समय में लाल के दिनचर्या पर कुछ सुझाव भी साझा किए।

उल्लेखनीय है कि बीबी लाल ने ही तथ्यों सहित प्रमाणित किया था कि अयोध्या में विवादित ढांचे के नीचे मंदिर के अवशेष हैं। बीबी लाल की किताब ‘राम, उनकी ऐतिहासिकता, मंदिर और सेतु:साहित्य, पुरातत्व और अन्य विज्ञान’ को लेकर खासी बहस भी हुई थी।

975-76 के बाद से प्रो. लाल ने रामायण से जुड़े अयोध्या, भारद्वाज आश्रम, नंदीग्राम और चित्रकूट जैसे स्थलों की खुदाई कर अहम तथ्य दुनिया तक पहुंचाए। उनके नाम पर 150 से अधिक शोध लेख दर्ज हैं। उनका जन्म झांसी में वर्ष 1921 में हुआ था। यह उनका जन्मशताब्दी वर्ष भी है।

प्रो. लाल फिलहाल 100 वर्ष के हो चुके हैं और एएसआइ के सबसे वरिष्ठ पुरातत्वविद् हैं। उन्होंने भारत सरकार, भारतीय उन्नत अध्ययन संस्थान, शिमला में विभिन्न वरिष्ठ क्षमताओं में सेवा की है, साथ ही ग्वालियर विश्वविद्यालय में प्रोफेसर और विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के सदस्य भी रहे हैं।

प्रो. लाल को 1944 में सर मोर्टिमर व्हीलर ने तक्षशिला में प्रशिक्षित किया गया था और बाद में वे भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण में शामिल हो गए। प्रो. लाल ने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पत्रिकाओं पर 20 पुस्तकों और 150 से अधिक शोध लेखों को लिखा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button