CG CRIME NEWS : देवर ने की भाभी की हत्या, फिर लाश के साथ किया रेप, नाबालिग देवर व ममेरा भाई हुए गिरफ्तार

770
ने की भाभी की हत्या, फिर लाश के साथ किया रेप, नाबालिग देवर व ममेरा भाई हुए गिरफ्तार
ने की भाभी की हत्या, फिर लाश के साथ किया रेप, नाबालिग देवर व ममेरा भाई हुए गिरफ्तार
.

CG CRIME NEWS : देवर ने की भाभी की हत्या, फिर लाश के साथ किया रेप, नाबालिग देवर व ममेरा भाई हुए गिरफ्तार

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

 

CG CRIME NEWS : जिला बलरामपुर के राजपुर थाना क्षेत्र में 4 दिन पहले जंगल में मिली महिला की लाश मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. लिव-इन-रिलेशनशिप में एक युवक के साथ रहकर मजदूरी करती थी. जिसको उसके नाबालिग दिव्यांग देवर ने अपने ममेरे भाई के साथ मिलकर महिला की हत्या की थी. जिसके बाद शव के साथ रेप भी किया गया था. मामले में पुलिस ने नाबालिग दिव्यांग देवर व ममेरे देवर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. साथ ही नाबालिग दिव्यांग को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है.

पूरा मामला
दरअसल ये मामला बलरामपुर जिले के राजपुर थाना क्षेत्र का है. जहां एक महिला लिव-इन-रिलेशनशिप में एक युवक के साथ रहकर मजदूरी करती थी. महिला की शादी पहले वाड्रफनगर के देवरी निवासी जीतबंधन मार्को के साथ हुई थी. महिला के 3 बच्चे भी हैं. आपसी विवाद होने के कारण वह पति और बच्चों को छोड़कर अंबिकापुर आ गई और असोला में रहकर मजदूरी कर रही थी. तीन साल पहले वह ग्राम परसागुड़ी निवासी मनोज चेरवा के साथ लिव इन रिलेशन में रहने लगी थी.

इस मामले में पुलिस जांच में पता चला कि खेत में पानी देने के नाम से दिव्यांग देवर ने महिला को कॉल किया और बुलाया था. बीते मंगलवार को उसने अपने और कृष्णा के फोन से 15 बार कॉल किया. शाम को जब महिला वहां पहुंची तो तीनों ने साथ में जंगल में शराब पी और मुर्गा खाया. इसके बाद वहां से वापस लौटते समय दोनों ने मिलकर नाइलोन की रस्सी से महिला की गला दबाकर हत्या कर दी फिर शव के साथ रेप किया.

रात के अंधेरे में नक्सलियों ने मचाया तांडव, 14 वाहनों को लगाई आग, डामर प्लांट को किया स्वाहा,

मोबाइल कॉल से पुलिस को मिला सुराग
पुलिस ने महिला का मोबाइल कॉल डिटेल निकला तो वारदात वाले दिन उसके मोबाइल पर पति के नाबालिग दिव्यांग भाई और एक दूसरे नंबर से 15 बार कॉल होना पाया गया. जांच में दूसरा नंबर मनोज के ममेरे भाई कृष्णा सोंहा का था. पुलिस ने कृष्णा सोहा से कड़ाई से पूछताछ की तो मामले का खुलासा हो गया.

दिव्यांग नाबालिग ने बनाई थी हत्या की योजना
पुलिस जांच में पता चला कि मर्डर की प्लानिंग महिला के ही 17 साल के नाबालिग देवर ने बनाई है. यह आरोपी दिव्यांग भी है जिसे आंखों से कम दिखता है. दरअसल मनोज चेरवा ने अपनी पहली पत्नी को छोड़ दिया था और सितावती गोंड़ के साथ अंबिकापुर में रह रहा था. मनोज चेरवा की मां बूढ़ी हो गई है लेकिन मनोज उन्हें ना घर में पैसे भेज रहा था ना ही खेती में सहयोग कर रहा था. इसके कारण मनोज के भाई ने अपनी भाभी को मारने की प्लानिंग की और अपनी योजना में उसने ममेरे भाई कृष्णा को शामिल कर लिया.

जंगल में मिला था महिला का शव
जिसके बाद महिल का शव 31 जनवरी को राजपुर थाना इलाके के गेउर हरीतिमा बांसबाड़ी जंगल में मिला था. लोगों की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने घटनास्थल की फॉरेंसिक जांच कराने के बाद शव को पीएम के लिए अस्पताल भेज दिया था. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में गला दबाकर महिला की हत्या करना और शव से एक से ज्यादा लोगों के रेप करने की जानकारी मिली थी. इसके बाद पुलिस जांच में जुट गई. इसके बाद राजपुर पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया.