सेंट्रल जेल से फरार हुआ, खूंखार गैंगस्टर

404
सेंट्रल जेल से फरार हुआ, खूंखार गैंगस्टर
सेंट्रल जेल से फरार हुआ, खूंखार गैंगस्टर

पुणे। महाराष्ट्र के पुणे की यरवदा सेंट्रल जेल से हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा काट रहा एक खूंखार गैंगस्टर भाग निकला जिसकी जानकारी अधिकारियों ने मंगलवार को दी। बता ड दे की गैंगस्टर की पहचान आशीष भरत जाधव के रूप में की गई है, जिसका जेल टैग सी-949 है, जो मूल रूप से मावल का रहने वाला है और वारजे-मालवाड़ी पुलिस ने 2008 में एक व्यक्ति की हत्या के मामले में उसे गिरफ्तार किया।

बाद में उसे पुणे की एक अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई और उसे वाईसीजे ओपन जेल में बैरक नंबर 4 में रखा गया। जाधव सोमवार शाम को कैदियों की गिनती में ‘गायब’ था।

वाईसीजे परिसर के अंदर कई जगहों पर उसे ढूंढा गया, लेकिन जब वह नहीं मिला तो अधिकारियों ने निष्कर्ष निकाला कि वह ‘भाग गया’, और पास के यरवदा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। एक अधिकारी ने कहा कि पुणे शहर, मावल और अन्य इलाकों में जाधव का पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। उसके भागने में मदद करने के लिए किसी अंदरूनी या बाहरी व्यक्ति की संलिप्तता का पता लगाया जा रहा है। इस बीच वाईसीजे ने अपने परिसर और उसके आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी है, खासकर ओपन जेल और ऐतिहासिक जेल परिसर में सभी कैदियों की आवाजाही पर निगरानी रख रही है।