टीवी शो ‘वागले की दुनिया के हुए तीन साल पूरे, सामाजिक विषयों पर इस शो डाली करीब से नज़र

80

मनोरंजन | टीवी शो ‘वागले की दुनिया: नई पीढ़ी नए किस्से’ ने वास्तव में भारतीय टेलीविजन पर एक अहम हिस्सा बन गया है। इस शो में एक मीडिल काल्स फैमली की स्टोरी को दिखाया गया है। वहीं ये शो एंटरटेनमेंट के साथ-साथ दैनिक और सामाजिक जीवन की समस्याओं पर चर्चा करने के लिए एन्करिज करता है। इस शो में एक ऐसा पहलू है। जो कि कई पीढ़ियों को दर्शाता है। साथ ही वागले की दुनिया’ में भाग-दौड़ वाले नाटक से हटकर ये शो मध्यमवर्गीय लोगों द्वारा उनके दैनिक जीवन से गुजर रही समाजिक जीवन पर प्रकाश डालती है। ‘वागले की दुनिया’ में पिछले तीन वर्षों से सामाजिक विषयों पर करीब से इस शो से नज़र डाली गई है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

वंदना ने किया ब्रेस्ट कैंसर के प्रति दर्शकों को जागरूक
वहीं जब वंदना को पता चला कि उन्हें स्तन कैंसर है, तो वागले की दुनिया में इस संवेदनशील मुद्दे को साहसपूर्वक निपटाया जाता है। साथ ही इस शो ने शीघ्र निदान के महत्व पर संवेदनशील रूप से प्रकाश डाला, मिथकों को दूर किया और ऐसे चुनौतीपूर्ण समय के दौरान परिवार के समर्थन की महत्वपूर्ण भूमिका को खूबसूरती से चित्रित किया।

महिला सुरक्षा सहायता के विषय में
इस पॉवरफुल स्टोरी में, वागले की दुनिया में छेड़छाड़ पर एक गंभीर मुद्दे पर चर्चा की गई है जब बड़ी बेटी सखी को एक फैशन फोटोग्राफर के हाथों एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना का सामना करना पड़ता है। यह शो सखी की यात्रा को दर्शाता है और उस पर पड़ने वाले मनोवैज्ञानिक प्रभाव को उजागर करता है। इसने वागले फैमली के अटूट रिश्ते को दर्शाया है। जिसमें इतनी मुश्किलों के बावजूद एक-दूसरे के समर्थन में खड़े रहे है, क्योंकि वे निडर होकर सखी के समर्थन में खड़े थे, जिससे उसे आघात से उबरने और अपराधी के खिलाफ लड़ने में मदद मिली।

शाहिद-कृति की फिल्म तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया का ट्रेलर रिलीज