CG Budget News : साय सरकार ने पेश किया बजट, जानें बजट में आम आदमी को क्या मिला

467
CG Budget News : साय सरकार ने पेश किया बजट, जानें बजट में आम आदमी को क्या मिला

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

रायपुर | छत्तीसगढ़ की विष्णुदेव साय सरकार आज पहला और ऐतिहासिक बजट पेश किया. इस बार बजट पेपरलेस डिजिटल पेश किया गया. इस बजट को विपक्ष ने जहां निराशाजनक व झूठा और लफ्फाजी बजट करार दिया है. वहीं बीजेपी ने बजट को परिवर्तनशील, व समाज के सभी वर्ग को स्पर्श करने का सबसे बड़ा बजट बताया है. लेकिन इस बजट से आम आदमी को क्या मिला जानें.

शिक्षा के लिए प्रावधान 

  • नालंदा परिसर की तर्ज पर प्रदेश के 22 स्थान में लाइब्रेरी बनाई जाएगी.
  • हिंदी व छत्तीसगढ़ी से गोंडी भाषा के ट्रांसलेशन के लिए सॉफ्ट वेयर का निर्माण किया जाएगा.
  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू होगी.
  • छत्तीसगढ़ प्रौद्योगिकी संस्थानों की स्थापना की जाएगी.
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित सिस्टम की मदद से शिक्षा व्यवस्था को सुधारा जाए.
  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रावधानों के अनुरूप रिसर्च इनोवेशन के लिए परिषद का गठन किया जाएगा.
  • राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों की भांति प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में छत्तीसगढ़ प्रौद्योगिकी संस्थानों की स्थापना की जाएगी.
  • पंडित रविशंकर शुक्ला महाविद्यालय रायपुर में स्टार्टअप इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय इंस्ट्रूमेंटेशन फैसिलिटी का उन्नयन किया जाएगा.
  • व्यवसाय मूलक पाठ्यक्रम के रूप में वाणिज्य अध्ययन शाला प्रारंभ की जाएगी.
  • पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर में फॉरेंसिक साइंस की प्रयोगशाला स्थापित की जाएगी.
  • नवा रायपुर अटल नगर में संगीत महाविद्यालय शुरू किया जाएगा.
  • पिपरिया में नवीन औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खुलेगा.

चिकित्सा और स्वास्थ्य

  • स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए 1500 करोड रुपए का प्रावधान
  • बिलासपुर स्थित सिम्स के नवनिर्माण के लिए 700 करोड़ रुपए का प्रावधान.
  • मेकाहारा रायपुर के लिए 773 करोड़.
  • मनेंद्रगढ़, कुनकुरी में 220 बिस्तर वाले अस्पताल की स्थापना की जाएगी.
  • शासकीय अस्पतालों में लैब टेक्निशियन के 373 पदों पर भर्ती की जाएगी.

नवा रायपुर के लिए सौगात

  • नया रायपुर में आईटी हब विकसित किया जाएगा.
  • कोरबा, रायगढ़, उरला, सिलतरा जैसे क्षेत्रों में उद्योगों को और आगे बढ़ाया जाएगा.
  • 9वां स्तंभ, छत्तीसगढ़ की संस्कृति का विकास करने का संकल्प.
  • 10वां, क्रियान्वयन का महत्व.
  • हम प्रदेश की आर्थिक स्थिति को बढ़ाने के लिए सत्य कार्य करेंगे देश और दुनिया में चल रहा है बेस्ट प्रैक्टिस को हम अपनाएंगे
  • छत्तीसगढ़ एडवाइजरी काउंसिल का गठन करेंगे.
  • वर्ष 2030 तक सकल घरेलू उत्पाद के लक्ष्य को हासिल करने के लिए पूंजीगत में पर्याप्त वृद्धि करने का टारगेट.

सिंचाई और बांध

  • सिंचाई और बांधों के लिए 72 करोड रुपए का प्रावधान.
  • सिंचाई के लिए रकबे के विस्तार के लिए 3000 करोड़ रुपए राशि का प्रावधान.
  • 10 करोड़ से अधिक के 156 कार्यों के लिए प्रावधान.
  • केलो परियोजना के नहर निर्माण कार्य 100 करोड़ से पूरा किया जाएगा.
  • राज्य जल केंद्र की स्थापना के लिए 1 करोड़ का प्रावधान.
  • सिंचाई बांधो की सुरक्षा के लिए 72 करोड़ रुपए का प्रावधान.
  • सौर सिंचाई सुविधाओं को विस्तार देने के लिए 170 करोड रुपए का प्रावधान.
  • 6 लाख 96 हजार कृषि पम्पों को लाभ दिलाने योजना.

पंचायत एवं ग्रामीण विकास

  • पंचायत एवं ग्रामीण विकास के अंतर्गत 17 हजार 539 करोड़ का प्रावधान, 70 प्रतिशत वृद्धि.
  • कचरा प्रबंधन की योजनाओं के लिए 400 करोड़ का प्रावधान.
  • ग्राम पंचायत स्तरीय महिला सदन बनाने के लिए 50 करोड रुपए का प्रावधान.
  • सड़कों के लिए 841 करोड़ का प्रावधान.
  • दीनदयाल उपाध्याय कृषि मजदूर योजना प्रारंभ करने का इस बजट में प्रावधान किया गया है.

बस्तर संभाग के लिए प्रावधान

  • तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों को चरण पादुका देने के लिए 35 करोड रुपए का प्रावधान.
  • गोंडी भाषा के विकास के लिए 2 करोड़ 50 लाख का प्रावधान.
  • आदिभाषाओ के संरक्षण और विकास के लिए प्रावधान.

बिजली बिल हाफ योजना

  • बिजली बिल हाफ योजना के लिए 1 हजार 274 करोड़ का प्रावधान.
  • एकल बत्ती के लिए 540 करोड़ का प्रावधान.

बस्तर संभाग के लिए प्रावधान

  • तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों को चरण पादुका देने के लिए 35 करोड रुपए का प्रावधान.
  • गोंडी भाषा के विकास के लिए 2 करोड़ 50 लाख का प्रावधान.
  • आदिभाषाओ के संरक्षण और विकास के लिए प्रावधान.

आवास योजना के लिए 8369 करोड़ का प्रावधान 

  • आवास योजना के लिए दूसरे अनुपूरक में 3800 करोड़ रुपए का प्रावधान था, इसे अब 8369 करोड़ किया जा रहा.

युवाओं के लिए छत्तीसगढ़ उद्यम क्रांति योजना

  • दीनदयाल उपाध्याय भूमि कृषि मजदूर योजना प्रारंभ करने के लिए 500 करोड़ रुपए का प्रावधान.
  • युवा को स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए छत्तीसगढ़ उद्यम क्रांति योजना प्रारंभ की जाएगी.
पति ने पत्नि को अधमरा कर तालाब में फेंका, हत्या को हादसे बताने के लिए रचा साजिश, आरोपी के दूसरी पत्नि ने हत्या का किया खुलाशा