Why are chillies so spicy? : क्या आप जानते है मिर्च इतनी तीखी क्यों होती है?

82
Why are chillies so spicy?
Why are chillies so spicy?
Why are chillies so spicy? : क्या आप जानते है मिर्च इतनी तीखी क्यों होती है?

Why are chillies so spicy? : मिर्च, अपनी तीखी और कड़वी भावना के लिए प्रसिद्ध, दुनिया भर के व्यंजनों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मिर्च इतनी तीखी क्यों होती है?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस रहस्य के पीछे का विज्ञान “कैप्साइसिन” नामक एक रसायन है। कैप्साइसिन मिर्च के फल, विशेष रूप से बीजों और आंतरिक पसलियों में पाया जाता है। यह रसायन मिर्च के तीखेपन का मुख्य कारण है।

CG Top Tourist Place : ये है छत्तीसगढ़ के मनोरम पर्यटन स्थल, गर्मियों की छुट्टियों में अवश्य करें इन जगहों की सैर

जब हम मिर्च खाते हैं, तो कैप्साइसिन हमारे जीभ पर मौजूद “ट्राइजेमिनल रिसेप्टर्स” को उत्तेजित करता है। ये रिसेप्टर्स आमतौर पर गर्मी और दर्द का संकेत देते हैं, जिसके कारण हमें मिर्च खाने पर जलन और तीखापन महसूस होता है।

लेकिन यह तीखापन सिर्फ दर्द नहीं देता। कैप्साइसिन एंडोर्फिन नामक हार्मोन के उत्पादन को भी उत्तेजित करता है, जो मस्तिष्क में खुशी और उत्साह की भावना पैदा करता है। यही कारण है कि कुछ लोग मिर्च खाना पसंद करते हैं, भले ही यह तीखी हो।

कैप्साइसिन के कुछ अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं, जैसे:

दर्द से राहत: यह सूजन और दर्द को कम करने में मदद कर सकता है।
वजन घटाना: यह चयापचय को बढ़ा सकता है और भूख को कम कर सकता है।
नाक बंद होना: यह नाक की भीड़ को कम करने में मदद कर सकता है।
हृदय स्वास्थ्य: यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है।

Smartphone Addiction : लगातार मोबाइल देखने से बच्चों के स्वास्थ पर पड़ सकता है असर

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि मिर्च का अत्यधिक सेवन पेट में जलन, दस्त और अन्य पाचन समस्याओं का कारण बन सकता है। यदि आपको कोई स्वास्थ्य स्थिति है, तो मिर्च का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करना सबसे अच्छा है।

तो, अगली बार जब आप मिर्च खाएं, तो याद रखें कि यह सिर्फ स्वादिष्ट नहीं है, बल्कि यह आपके स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद हो सकती है।

मिर्च की तीखापन को “स्कोविल हीट यूनिट” (SHU) में मापा जाता है। जलापीनो मिर्च में लगभग 2,500-8,000 SHU होती है, जबकि कैरोलिना रीपर में 2.2 मिलियन SHU तक हो सकती है। मिर्च के अलावा, अन्य खाद्य पदार्थों में भी कैप्साइसिन होता है, जैसे कि घंटी मिर्च, टमाटर और आलू।
कैप्साइसिन पानी में घुलनशील नहीं है, लेकिन यह वसा में घुलनशील है।

डिस्क्लेमरः इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य है और सटीक है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।