BUSSINESS NEWS – 2 हजार के नोट वापिस लेने का आरबीआई को दिखा असर, गिनवाए इसके अच्छे फायदे

592

BUSSINESS NEWS |  भारतीय रिजर्व बैंक ने 19 मई 2023 को 2 हजार के रूपए के नोटों को बैंक चलन से वापस लेने की घोषणा की थी. जिसका असर अब दिखने लगा है. आरबीआई ने इसके अच्छे फायदे गिनवाएं है. आंकड़ों के अनुसार, नौ फरवरी को समाप्त सप्ताह में करेंसी इन सर्कुलेशन में मुद्रा की वृद्धि एक साल पहले के 8.2 प्रतिशत से घटकर 3.7 प्रतिशत रह गई है. करेंसी इन सर्कुलेशन (सीआईसी) से तात्पर्य प्रचलन में मौजूद नोटों और सिक्कों से है. वहीं, जनता के पास मौजूद मुद्रा से तात्पर्य बैंकों के पास जमा नकदी को घटाकर प्रचलन में मौजूदा नोटों और सिक्कों से होता है

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बैंकों में बढ़ा डिपॉजिट 

आरबीआई के अनुसार, कमर्शियल बैंकों के पास जमा में जनवरी में दो अंक में वृद्धि हुई है। इसकी वजह भी 2,000 के नोटों को हटाना है। केंद्रीय बैंक के आंकड़ों के अनुसार, आरक्षित मुद्रा (आरएम) की वृद्धि नौ फरवरी, 2024 को घटकर 5.8 प्रतिशत रह गई, जो एक साल पहले 11.2 प्रतिशत थी। आरएम में सीआईसी के अलावा आरबीआई के पास बैंकों की जमा राशि और केंद्रीय बैंक के पास अन्य जमा शामिल हैं। आरबीआई के अनुसार, आरएम के सबसे बड़े खंड सीआईसी की वृद्धि एक साल पहले के 8.2 प्रतिशत से घटकर 3.7 प्रतिशत रह गई। इसकी वजह स्पष्ट रूप से 2,000 रुपए के बैंक नोटों को वापस लेना है। 

IMG 20240420 WA0009
नवरात्रि में चढ़ा सोने का भाव, जानें क्या है आज का भाव