breakfast में इस सिंपल उपमा रेसिपी को करें Try

118
सिंपल उपमा, रेसिपी
सिंपल उपमा, रेसिपी

उपमा एक बेहतरीन फूड डिश है. रवा उपमा फाइबर से भरपूर होता है जो कि हमारे डाइजेशन सिस्टम को बेहतर रखने में मदद करता है. इतना ही नहीं रवा उपमा खाने के बाद जल्दी से भूख नहीं लगती है और ये लंबे समय तक एनर्जेटिक बनाए रखने में भी मदद करता है. रवा उपमा एक ऐसी फूड डिश है जिसे बड़ों के साथ बच्चे भी काफी पसंद करते हैं. सुबह के बिजी शेड्यूल के बीच आप बच्चों के टिफिन में भी रवा उपमा को रख सकते हैं.
रवा उपमा बनाना काफी आसान है और ये कम वक्त में ही बनकर तैयार हो जाता है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

उपमा बनाने की सामग्री

सूजी – 1 कप प्याज – 1 राई – 1/2 छोटा चम्मच हरी मिर्च – 1 उबलता पानी – 1 1/4 कप छोटा आलू – 1 घी – 2 बड़े चम्मच करी पत्ते – 10 आवश्यकता अनुसार नमक

उपमा बनाने की विधि

स्टेप – 1 सूजी को भूनें

इस स्वादिष्ट डिश को बनाने के लिए प्याज और आलू को छीलकर अलग-अलग बाउल में बारीक काट लें. इसके बाद एक पैन को धीमी आंच पर रखें और इसमें सूजी को सूखा भून लें. एक बार हो जाने के बाद, एक बाउल में निकाल लें और आवश्यकता होने तक एक तरफ रख दें.

स्टेप – 2 तड़का तैयार करें

फिर उसी कड़ाही को मध्यम आंच पर रखें और उसमें घी पिघलाएं. एक बार पिघलने के बाद इसमें राई, करी पत्ता और हरी मिर्च डालें. कुछ सेकेंड के लिए इन्हें तड़का दें और फिर इसमें कटा हुआ प्याज डालें. एक मिनट के लिए भूनें और फिर कटे हुए आलू डालें. स्वादानुसार नमक डालें. पैन को ढक दें और सामग्री को एक मिनट के लिए पकने दें.

रोज के प्रोटीन सोर्स के लिए अंडे से बनाएं ये फटाफट रेसिपी

स्टेप – 3 पानी उबाल लें

इस बीच, मध्यम आंच पर एक सॉस पैन में पानी उबाल लें. आप पानी को उबालने के लिए इलेक्ट्रिक केतली का भी इस्तेमाल कर सकते हैं जब तक कि आलू पक न जाए.

स्टेप – 4 पकाएं और परोसें

भुनी हुई सूजी सब्जियों में डालें और अच्छी तरह मिलाएं. अब जल्दी से उबला हुआ पानी सूजी में डालें और अच्छी तरह मिलाएं. पैन को ढक्कन से ढक दें और उपमा को एक या दो मिनट के लिए पकने दें. ताजी कटी हुई धनिया पत्ती से गार्निश करें. गर्म – गर्म परोसें.

सूजी में पोषक तत्व

सूजी वजन घटाने में मदद करता है. इसमें फाइबर होता है. ये वजन घटाने में मदद करता है. डायबिटीज के जोखिम को कम करने में भी सूजी मदद कर सकती है. एक अध्ययन के अनुसार डाईट्री फाइबर की बढ़ी हुई मात्रा ग्लाइसेमिक में सुधार करने का काम करती है. शरीर में आयरन की कमी एनीमिया का कारण बन सकती है. सूजी में आयरन भरपूर होता है.